Sunday, Dec 04, 2022
-->
delhi violence farmersprotest deep sidhu facebook lal quila sobhnt

सामने आया लाल किले पर धार्मिक झण्डा फहराने का आरोपी, किया जांच में सहयोग का वादा

  • Updated on 1/29/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। दिल्ली के लाल किले (Lal Quila) पर धार्मिक झंडा लगाने के मामले में आरोपी दीप सिद्धू (Deep sidhu) ने कहा है कि उन्हें सच्चाई सामने लाने के लिए कुछ वक्त चाहिए और उसके बाद वह जांच में शामिल होंगे। धार्मिक झंडा लगाने के आरोप में सिद्धू के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। उसने फेसबुक (Facebook) में एक वीडियो पोस्ट कर कहा कि मेरे खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया गया है और लुक आउट नोटिस भी जारी किया गया है। पहले तो मैं यह संदेश देना चाहता हूं कि मैं जांच में शामिल होऊंगा। सिद्धू ने कहा कि सच्चाई सामने लाने के लिए उन्हें कुछ वक्त चाहिए।     

Corona Vaccination: कोरोना से मुक्त हुए 191 जिले, 28 लाख से ज्यादा लोगों को लगा वैक्सीन

गलत सूचना फैलाई गई 
सिद्धू ने कहा कि क्योंकि गलत सूचना फैलाई गई है और वह जनता को गुमराह कर रही है। इसलिए मुझे सच्चाई सामने लाने के लिए कुछ वक्त चाहिए और उसके बाद मैं जांच में शामिल होउंगा। वीडियो में कहा गया कि जांच एजेंसियों से मेरा अनुरोध है.... जब मैंने कुछ भी गलत नहीं किया है,तो मैं क्यों भागूंगा और क्यों डरूंगा। मुझे भय नहीं है। मैंने कुछ गलत नहीं किया है और यह सामने आ जाएगा।      

बजट सत्र से पहले बोले PM मोदी- भारत के उज्जवल भविष्य के लिए ये सत्र बेहद महत्वपूर्ण

सबूत सबके सामने पेश करुंगा
सिद्धू ने जांच एजेंसियों और पुलिस विभाग से कहा है कि वह दो दिन में उनके सामने पेश होंगे। उन्होंने कहा कि जिस प्रकार की अफवाहें फैलाई जा रही हैं वह तथ्यों पर आधारित नहीं हैं। मुझे तथ्यों पर आधारित सच्चाई सामने लाने के लिए दो दिन चाहिए और मैं सारे साक्ष्य और सबूत इकट्ठा करुंगा। गौरतलब है कि जिस समय लाल किले पर धार्मिक और किसान झंडे लगाए गए तब सिद्धू वहीं पर मौजूद था। इस घटना के बाद जबदस्त आक्रोश फैल गया था।    

Corona Vaccination: कोरोना से मुक्त हुए 191 जिले, 28 लाख से ज्यादा लोगों को लगा वैक्सीन

दिल्ली पुलिस के जवानों पर किया हमला
दिल्ली पुलिस ने इस पूरी हिंसा के लिए किसान नेताओं को जिम्मेदार ठहराया है। पुलिस ने कहा है कि यह सब कुछ साजिश के तहत किया गया है ताकि सरकार को अंतराष्ट्रीय स्तर पर शर्मिंदगी महसूस कराई जा सके। पुलिस ने कहा है कि किसान नेताओं ने जानबूझकर ऐसा महौल बनाया है यह सब सोची समझी साजिश है। सोच समझकर ऐतिहासिक घरोहर को तार-तार किया गया। दिल्ली पुलिस के जवानों पर हमला किया गया।  

 

 

यहां पढ़ें अन्य बड़ी खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.