Monday, Nov 28, 2022
-->
dust-covered-increased-pollution-bad-air-washed-away-by-raindrops

छायी धूल, बढ़ा प्रदूषण, हवा हुई खराब, बारिश की बूंदों से धुला 

  • Updated on 10/5/2022

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। दिल्ली में बुधवार को दिन के एक हिस्से में धूल का असर दिखाई दिया और हवा भी खराब श्रेणी में पहुंच गई। हालंाकि कुछ इलाकों में हल्की बूंदाबांदी के बाद आसमान से अंधेरा छंट गया। वहीं पंजाब और हरियाणा में पराली जलने के मामले सौ से बढ़ गए हैं। पंजाब और हरियाणा में बुधवार को 120 जगह पर पराली जलते हुए दिखी। हालंाकि यह मंगलवार को 91 जगहों पर आग दिखी और 81 जगहों पर पंजाब में हॉट स्पॉट नजर आया। 
    हालंाकि पराली व पर्यावरण विशेषज्ञ रविंद्र खईवाल ने बताया कि हवा का रुख पूर्व दिशा की ओर है इसलिए हरियाणा और पंजाब में पराली जलाने का असर राजधानी में ज्यादा नहीं होगा। अनुकूल हवा की गति व बारिश से प्रदूषक छट जाएंगे। 
    जबकि दोपहर से पहले धूल का असर था कि दिल्ली में वायु गुणवत्ता सूचकांक बढ़कर 211 तक पहुंच गया। प्रदूषण का स्तर पीएम-2.5, पीएम-10 बढऩे के बाद दिल्ली नहीं आसपास के शहरों में भी प्रदूषण स्तर बढ़ गया। दिल्ली के अधिकांश इलाकों में जहां हवा खराब रही वहीं आनंद विहार में तो वायु गुणवत्ता सूचकांक बहुत खराब श्रेणी में पहुंच गया। 
     अलीपुर, शादीपुर, आईटीओ, सिरीफोर्ट, आरकेपुरम, पंजाबी बाग, नॉर्थ कैम्पस, मथुरा रोड, नेहरू नगर, पटपडग़ंज सहित अधिकांश इलाकों में हवा 200 से ऊपर और 300 के नीचे होने के कारण खराब श्रेणी में दर्ज की गई। दिल्ली ही नहीं एनसीआर के नजदीकी जिलों में भी हवा प्रदूषण के खराब श्रेणी में पहुंच गई है। हालंाकि वायु गुणवत्ता प्रबंधन आयोग ने जहां जीआरएपी लागू किया हुआ है वहीं रावण दहन पर पटाखों पर भी प्रतिबंध है। 

दिल्ली एनसीआर में प्रदूषण का स्तर 
दिल्ली-211 - पीएम-2.5, पीएम-10 
ग्रेटर नोएडा-234 
नोएडा-215 
गुरूग्राम-238
पानीपत-221 
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.