Friday, Jul 01, 2022
-->
east-ladakh-soldiers-will-not-waver-in-cold-indian-army-has-prepared-house-anjnst

पूर्वी लद्दाख: ठंड में भी नहीं डगमगाएंगे जवानों के पैर, Indian Army ने तैयार किए अत्याधुनिक आवास

  • Updated on 11/19/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। पिछले 6 महीने से पूर्वी लद्दाख पर भारतीय सेना और चीनी सेना के बीच रहे विवाद को देखते हुए भारतीय सेना ने जवानों के रहने की  व्यवस्था को अपग्रेड किया है। लद्दाख में हर साल इस महीने में 40 फीट तक बर्फबारी होती है जिसके कारण यहां का तापमान माइनस में 30-40 डिग्री तक चला जाता है। ऐसे में सैनिकों की सुरक्षा के लिए उनके रहने की फैसिलिटी को बढ़ा दिया गया है।

ये सुविधा मौजूद
भारतीय सेना ने पूर्वी लद्दाख में तैनात सभी सैनिकों के लिए आवास की पूरी व्यवस्था कर ली है ताकि कड़ाके की ठंड में उनकी अभियान क्षमता यथावत बनी रहे। भारतीय सेना ने बुधवार को बताया कि तमाम सुविधाओं से युक्त परंपरागत स्मार्ट कैंप के अलावा बिजली, पानी, जगह को गर्म रखने की सुविधा, स्वास्थ्य और स्वच्छता सुविधाओं से युक्त अत्याधुनिक आवासीय सुविधा की व्यवस्था की गई है।

इन सैनिकों के लिए किया गया इंतजाम
अग्रिम पंक्ति में तैनात सैनिकों को तैनाती की रणनीतिक जरुरतों के मद्देनजर गर्म रहने वाले तंबूओं (टेंट) में रखा गया है। असके अलावा किसी भी प्रकार की आपात जरूरत के लिए असैन्य निर्माण भी किया गया है। आपको बता दें कि नवंबर के महीने में कुछ समय के लिए लद्दाख तक का सड़क मार्ग अवरुद्ध हो जाता है।

मई से ही हो रहा दोनों सेना में गतिरोध
सेना ने बताया कि कड़ाके की ठंड में वहां तैनात सैनिकों की अभियान क्षमता को बनाए रखने के लिए भारतीय सेना ने सेक्टर में मौजूद सभी सैनिकों के आवास की व्यवस्था कर दी है। पूर्वी लद्दाख में मई से ही भारत और चीन के बीच सैन्य गतिरोध की स्थिति है।

comments

.
.
.
.
.