Wednesday, Apr 08, 2020
easy-to-convince-anything-this-year

इस साल आसानी से मान ली जाएंगी आपकी बातें, बनेंगे मजबूत संबंध

  • Updated on 3/26/2020

नई दिल्ली /टीम डिजिटल। हिंदी नववर्ष (new year) शुरु होते ही पीएम मोदी (narendra modi) ने सभी लोगों से तालियां और थाली बजाने को कहा तो बिना ना-नुकुर सभी लोगों ने आराम से उनकी बात मान ली और एक बीमारी को भी जोरदार त्यौहार के साथ मनाया। नव वर्ष की पूर्व संध्या पर उन्होने देश भर को 21 दिनों के लिए लॉक डाऊन करने के लिए कहा और विपक्ष से लेकर देश भर में लोग आसानी से राजी हो गए। ज्योतिष विज्ञान मानता है कि इस साल हर कोई दूसरे की बात को इतनी ही आसानी से मान लेगा। दरअसल ये कुछ और नहीं बल्कि इस नए साल का जादू है।

इस नवरात्रि पर इन नियमों का करेंगे पालन, तो कोरोना कहर भी हो सकता है शांत

किसी को प्रपोज करना है तो ये साल है बेस्ट
ज्योतिष विज्ञान के मुताबिक मंगलवार की दोपहर 2.57 बजे से नव वर्ष का शुभारंभ हो चुका है। इसके कुछ ही देर बाद पीएम मोदी ने 8 बजे लोगों से लॉक डाऊन की अपील की और लोग आसानी से राजी हो गए। इस नए साल में अगर आप किसी को प्रपोज करना चाहें तो आपके चांस बढ़ सकते हैं। वहीं अगर आप शादी करने वाले हैं तो आपकी शादी टिकने की संभावनाएं भी ज्यादा हैं। हमारे संहिता ग्रंथों के अनुसार साठ संवत्सरो में यह संवत्सर का नाम प्रमादी संवत्सर है। ये संबंध सिर्फ पति-पत्नी या प्रेमियों के हों जरुरी नहीं, आपके दोस्तों, बॉस से लेकर मकान मालिक तक सभी से आपके संबंध इस साल बेहतर रहने वाले हैं।

राम मंदिर: आज से शुरू हुआ अनुष्ठान, 25 मार्च को अस्थाई मंदिर में विराजेंगे रामलला

महिलाओं के नाम रहेगा ये साल
इस वर्ष के राजा बुध है और मंत्री चंद्रमा है। ये साल महिलाओं के नाम रहेगा क्योंकि बुध देव कन्या राशि के स्वामी हैं। इसलिए अगर इस साल महिलाओं की सफलता के कई किस्से आपको हर जगह सुनने को मिल सकते हैं। बुध को लिखने-पढ़ने का स्वामी माना जाता है, लिहाजा विद्यार्थियों के लिए भी ये साल अच्छा परिणाम ला सकता है। चंद्रमा मन का स्वामी होता है। चंद्रमा मन का कारक होने के कारण मन स्थिर नहीं हो पाने का योग भी बन रहा है। संशल यी स्थिति बनी रह सकती है। कठोर निर्णय न लेने की दिक्कतें सामने आ सकती हैं।

Chaitra Navratri 2020 इस बार होगा बड़ा खास, बन रहे हैं बेहतरीन ग्रह योग

साल भर बनी रहेंगी बीमारियां
नए साल की शुरआत ही कोरोना जैसी महामारी दिख रही है। मगर ये बीमारी इस साल की आखिरी बीमारी नहीं होगी। महामृत्युंजय मिशन के अध्यक्ष संजीव शर्मा बताते हैं कि इस साल शनि और राहू का प्रभाव साल भर रहेगा। कोरोना की बीमारी के बाद भी साल भर और भी बीमारियां सामने आ सकती हैं।

कोरोना में ज्योतिष की भविष्यवाणी : कब तक बरतें कितनी सावधानी

कुबेर दिशा में काम करेंगे तो आएगा धन
बुध कुबेर दिशा का भी कारक ग्रह है अतः वास्तु अनुसार कुबेर दिशा में किए गए कार्यों पर बुध की कृपा अधिक रहेगी और धन का आगमन भी अच्छा बना रहेगा। मंगल और शनि की युक्ति के कारण रक्त के विकार अधिक हो सकते हैं रोगों से बचने के लिए वर्ष भर भगवान शिव की शरण में जाना और महामृत्युंजय जप करना कल्याण का सरल साधन है। मंगल के लिए भी वटवृक्ष की कृपा जीवन में बनी रहे तो अच्छा है।

माता वैष्णो देवी के भक्तों के लिए बुरी खबर, जानें क्या है पूरा मामला

भगवान नीलकंठ की पूजा करेंगे तो शुभ बीतेगा साल
24 मार्च 2020 2:57 दोपहर कर्क लग्न की कुंडली के अनुसार वह 25 मार्च 2020 दिन बुधवार सूर्य उदय 6:27 की मीन लग्न की कुंडली के अनुसार दोनों ही में कालसर्प दोष भी दृष्टिगोचर होता है इसके निवारण के लिए भी नीलकंठय नमः मंत्र महामृत्युंजय मंत्र,शिव मंदिर में दीपक या शिव शिव नाम उच्चारण बहुत शुभ  है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.