Thursday, Jun 17, 2021
-->
encounter between security forces and terrorists anjsnt

सुरक्षाबलों और आतंकवादियों के बीच हुई मुठभेड़, तीन आंतकी ढेर एक को पकड़ा जिंदा

  • Updated on 5/6/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। जम्मू कश्मीर के शोपियां में एक बार फिर से सुरक्षाबलों और आतंकवादियों के बीच मठभेड़ हुई। जिसमें सुरक्षाबल के जवानों के हाथ बड़ी सफलता लगी है। जवानों ने तीन आतंकवादियों को मार गिराया और एक आतंकी को जिंदा पकड़ा है।

पुलिस के प्रवक्ता ने बताया कि सुरक्षाबलों को दक्षिण कश्मीर के कनिगाम इलाके में आतंकवादियों की मौजूदगी की सूचना मिली थी जिसके बाद रात में इलाके की घेराबंदी की गई और तलाश अभियान चलाया गया। उन्होंने बताया कि जैसे ही अल-बद्र संगठन के चार स्थानीय आतंकवादियों की मौजूदगी के बारे में पता चला तो सुरक्षाबलों ने अत्यधिक संयम बरता और उन्हें आत्मसमर्पण के लिए मनाने की पूरी कोशिश की।

प्रवक्ता ने बताया कि आतंकियों के परिजनों को भी वहां बुलाया गया ताकि समर्पण के लिए उन्हें मनाया जा सके।      अधिकारी ने बताया कि आतंकवादियों ने आत्मसमर्पण की पेशकश ठुकरा दी और गोलीबारी शुरू कर दी। उन्होंने बताया कि सुरक्षाबलों ने जवाबी कार्रवाई की जिसके बाद मुठभेड़ शुरू हो गई।

प्रवक्ता ने बताया कि मारे गए आतंकियों की पहचान शोपियां के खाजापुरा के दानिश मीर, मोहम्मद उमर भट और राबेन इलाके के निवासी जैद बशीर रेशी के तौर पर हुई। पुलिस रिकॉर्ड के मुताबिक वे सभी अल-बद्र आंतकी संगठन से जुड़े थे।   

आतंकी की हुई पहचान
बता दें कि इस मुठभेड़ में जिंदा पकड़े गए आतंकी की पहचान  हो गई है। आतंकी का नाम तौसीफ अहमद हैं। ये उन तीन आतंकियों का साथी है और ये चारों आतंकी संगठन अल-बद्र के सदस्य हैं। पुलिस अधिकारी ने बताया कि आत्मसमर्पण करने वाले आतंकवादी की पहचान तौसिफ अहमद के रूप में की गई है। प्रवक्ता ने कहा कि कश्मीर के पुलिस महानिरीक्षक विजय कुमार ने अत्यधिक संयम दिखाने के लिए सुरक्षा बलों की प्रंशसा की जिसके कारण एक ‘भ्रमित युवक’ की जान बचाने में कामयाबी मिली। मुठभेड़ स्थल से कारतूस और आग्नेयास्त्र बरामद किए गए। 

ऐसे पूरा हुआ ऑपरेशन
सुरक्षाबलों को सूचना  मिली की कुछ आतंकी शोपियां के इलाके कनिगम में छिपे हुए हैं। सूचना मिलते ही सुरक्षाबल के जवान काम पर लग गए और इस ऑपरेशन को शुरु किया।  ऑपरेशन के दौरान पहले तो जवानों ने उन्हें आत्म समर्पण को कहा लेकिन वो नहीं मानें और जवानों पर गोलीबारी करनी शुरु कर दी।  इसके बाद दोनों तरफ से हुई गोलीबारी में तीन आतंकी मारे गए। अपने साथियों को मरता देखकर एक आतंकी ने खुद को सरेंडर कर दिया। जिसके बाद उसकी  पूछताछ हुई जिस दौरान उसने अपना नाम तौसीफ अहमद बताया  है।
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.