Sunday, Feb 28, 2021
-->
Farmer protest Delhi police Warning punjab joginder singh ugrahan sobhnt

Punjab: बरनाला में हुई रैली में बोले किसान, दिल्ली पुलिस आई पंजाब तो होगा घेराव, फाड़े नोटिस

  • Updated on 2/22/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। रविवार को पंजाब के बरनाला (Barnala) में हुई रैली में किसान नेताओं ने भारी भीड़ जुटा कर अपनी शक्ति का प्रदर्शन किया था। इसमें हजारों लोग इकट्ठा हुए थे। इस पंचायत का नेतृत्व कर रहे भारतीय किसान यूनियन (उग्रहन) (BKU) के नेता जोगिंदर सिंह उग्रहन ने दिल्ली पुलिस को चेतावनी देते हुए कहा है कि उसने जिन लोगो के खिलाफ झूठे मुकदमें दर्ज किए हैं। वह उन्हें गिरफ्तार करने पंजाब आई तो पुलिस का घेराव किया जाएगा। इसके अलावा उन्होंने दिल्ली पुलिस के नोटिस को जलाने  और फाड़ने का भी ऐलान किया है। 

BKU नेता जोगिंदर सिंह का बड़ा बयान, 26 जनवरी की हिंसा को बताया पूर्वनियोजित

दिल्ली पुलिस को चेतावनी
किसान नेता उग्रहन ने दिल्ली पुलिस (Delhi Police) पर झूठे मुकदमें दर्ज करने की बात कहते हुए कहा है कि पुलिस को पंजाब नहीं आना चाहिए अगर दिल्ली पुलिस का कोई जवान पंजाब गिरफ्तार करने आया तो उसका घेराव किया जाएगा। उन्होंने इसके अलावा कहा है कि दिल्ली पुलिस के नोटिसों से किसी को डरने की जरुरत नहीं है। वह कहते हैं कि उन नोटिसों को जला दो फाड़ दो उसके बाद भी अगर दिल्ली पुलिस का कोई जवान आता है तो पंजाब पुलिस हमारे साथ है। वह कहते हैं कि हम अपने लोगों के साथ खड़े है। जिनके पास पुलिस का नोटिस आता है। वह उसे मुझे भेज थे। किसी को पुलिस के सामने पेश होने की जरुरत नहीं है।  

किसानों ने केंद्रीय मंत्री संजीव बालियान का किया विरोध, गांव आए तो लगाए मुर्दाबाद के नारे

झूठे मुकदमे को लगाया आरोप
उग्रहन के अलावा ऐसी की अपील हरियाणा की भारतीय किसान यूनियन के प्रमुख गुरनाम सिंह चडूनी ने भी की है। उन्होंने भी अपने लोगों से दिल्ली पुलिस के नोटिसों को गंभीरता से न लेने और उनके सामने पेश होने से मना करने की बात कही है। उन्होंने कहा है कि केंद्र सरकार हमें तोड़ने के लिए अलग-अलग संगठन दिखाने की कोशिश कर रही है। वह कहते हैं कि चाहे घर के भाइयों के बीच कितने ही मतभेद क्यों न हो मगर जब कोई बाहरी आता है तो सभी एक होकर मिलकर उसका मुकाबला करते हैं।  

Delhi-NCR में आज से चलेंगी लोकल ट्रेनें, ऐसे टिकट करनी होगी बुक

पीएम पर भी दिखा गुस्सा
जोगिंदर सिंह ने इसके अलावा प्रधानमंत्री मोदी और उनकी सरकार पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा है कि जब हमारा कोई दुश्मन का बेटा भी मारा जाता है तब भी हमको बुरा लगता है। और हम दुख जताते हैं मगर 200 से ज्यादा किसान मारे गए मगर प्रधानमंत्री मोदी के मुंह से एक शब्द नहीं निकला। वह कहते हैं कि प्रधानमंत्री ने तो इसकी जगह किसानों को आंदोलनजीवी कह कर उनका अपमान किया है। वह कहते हैं कि हम अगर आंदोलनजीवी है तो उन्हें हमारे उगाए अन्न को नहीं खाना चाहिए। 

 

ये भी पढ़ें:

comments

.
.
.
.
.