Tuesday, Dec 06, 2022
-->
Farmers movement will celebrate Fateh Diwas and Vijay Diwas on completion of one year

किसान आंदोलन एक साल पूरा होने पर मनाएंगे फतेह दिवस और विजय दिवस

  • Updated on 11/14/2022

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। सयुंक्त किसान मोर्चा की राष्ट्रीय स्तर की बैठक आज गुरुद्वारा रकाब गंज साहिब में हुई और इसमें देश भर के संगठनों के प्रमुख नेताओं ने भाग लिया। किसान संगठनों ने इस पर हैरानी जताई कि दिल्ली में किसान आंदोलन को खत्म हुए एक साल होने जा रहा है और केंद्र सरकार द्वारा मोर्चे से किए गए ज्यादातर वादे अब भी पूरे नहीं किए गए हैं। 
            केंद्र सरकार के रवैए पर आज किसान मोर्चा ने तय किया कि 19 नवम्बर को प्रधानमंत्री ने कृषि कानूनों को वापस लेने की घोषणा की थी, इसलिए मोर्चा इस साल इस दिन को फतेह दिवस के रूप में मनाएगा। संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर 26 नवम्बर 2020 को लाखों किसान दिल्ली के लिए रवाना हुए थे और इसीलिए इस साल 26 नवम्बर को हर राज्य के राजभवन की तरफ मार्च निकाला जाएगा और राज्यपाल को मांग पत्र दिया जाएगा। 
        किसान 11 दिसम्बर 2021 को जीत के बाद विजय मार्च पर वापस गांवों को चले गए थे इसलिए 11 दिसम्बर को मोर्चा विजय दिवस मनाएगा और 1 से 11 दिसम्बर तक लोकसभा व राज्यसभा सदस्यों को मांग पत्र देंगे। किसान मोर्चा की अगली बैठक 8 दिसम्बर को होगी जिसमें आंदोलन के अगले चरण पर चर्चा कर घोषणा की जाएगी। उस बैठक में कर्जमाफी, पूरा दाम, एमएसपी की गारंटी के लिए संघर्ष पर फैसला होगा। आज बैठक में बूटा सिंह बुर्जगिल, रमिंदर सिंह पटियाला और जगतार सिंह बाजवा की अध्यक्षता में हुई जिसमें  राकेश टिकैत, डॉ. दर्शन पाल, हन्नान मोलाह सहित 70 से अधिक नेता मौजूद रहे। 

comments

.
.
.
.
.