Tuesday, Jan 25, 2022
-->
government sent written assurance, agreed to end the farmers agitation, announced on wednesday

सरकार ने भेजा लिखित आश्वासन, किसान आंदोलन समाप्ति पर सहमति, बुधवार को हो सकता है औपचारिक ऐलान

  • Updated on 12/7/2021

नई दिल्ली/ अनिल सागर। भारत सरकार की ओर से किसानों को पंाच मुद्दों पर लिखित आश्वासन मिलने के बाद अब बुधवार को किसान आंदोलन समाप्ति का ऐलान किया जा सकता है। किसान नेता कुलवंत सिंह संधू ने मंगलवार को कहा कि प्रदर्शनकारी किसान संघ आंदोलन के भविष्य पर आम सहमति पर पहुंच गए हैं क्योंकि उनकी लगभग सभी मांगों को पूरा कर लिया गया है, लेकिन औपचारिक घोषणा बुधवार को की जाएगी।
      कुलवंत सिंह सधू ने कहा कि जिन मांगों को उठाया गया था वे लगभग सभी पूरी करने के लिए सरकार से आश्वासन का पत्र प्राप्त हुआ होने के बाद आम सहमति बन गई है, अंतिम निर्णय की घोषणा कल की जाएगी। संयुक्त किसान मोर्चा (एसकेएम) की बैठक के बाद संधू ने कहा कि 40 से अधिक किसान संघों केसंगठन में आज इस पत्र पर भी चर्चा की गई है और उसके बाद ही रजामंदी हुई है। 
     जबकि एक अन्य किसान नेता और एसकेएम के सदस्य ने कहा कि बुधवार को आंदोलन समाप्त होने की संभावना है क्योंकि किसानों की मांगों पर सरकार की ओर से सकारात्मक प्रतिक्रिया मिली है। अब बुधवार को एसकेएम की एक और बैठक के बाद अंतिम निर्णय की घोषणा की जाएगी। 
       आंदोलन की अगुवाई कर रहे एसकेएम ने फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) पर कानूनी गारंटी, किसानों को मुआवजा देने सहित प्रदर्शनकारी किसानों की लंबित मांगों पर सरकार के साथ बातचीत करने के लिए शनिवार को पांच सदस्यीय पैनल का गठन किया था। 
      सरकार तीन कृषि कानूनों को वापिस ले चुकी है और बाकी केस वापसी, एमएसपी पर कमेटी, आंदोलन के दौरान मारे गए किसानों के परिजनों को मुआवजे पर पत्र मिला है। हालंाकि किसान संगठनों ने कहा है कि केंद्र सरकार से कुछ मुद्देां पर स्पष्टीकरण जरूरी है और उन पर स्पष्टीकरण के बाद ही आंदोलन समाप्त किया जाएगा। 
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.