Monday, Sep 26, 2022
-->
if-gehlot-becomes-president-will-have-to-leave-cm-s-chair-rahul-advocated-one-person-one-post

अध्यक्ष बने तो छोड़नी होगी गहलोत को मुख्यमंत्री की कुर्सी, राहुल ने की ‘एक व्यक्ति-एक पद’ की वकालत

  • Updated on 9/22/2022

नई दिल्ली/नेशनल ब्यूरो। राजस्थान के मुख्मयंत्री अशोक गहलोत की मंशा पर पानी फिरता दिख रहा है। पार्टी अध्यक्ष निर्वाचित हुए तो उन्हें राजस्थान के मुख्यमंत्री की कुर्सी छोडऩी होगी। पार्टी के शीर्ष नेता राहुल गांधी ने वीरवार को ‘एक व्यक्ति, एक पद’ पर जोर देते हुए कहा कि उन्हें उम्मीद है कि ‘उदयपुर चिंतन शिविर’ में तय हुई व्यवस्था पर पूरी तरह अमल किया जाएगा। हालांकि अपनी मुख्यमंत्री की कुर्सी बचाने को गहलोत अभी भी प्रयासरत हैं। राहुल को अध्यक्ष पद स्वीकार करने के लिए उन्हें मनाने वे वीरवार को केरल में थे और ‘भारत जोड़ो यात्रा’ में शामिल हुए।

कांग्रेस अध्यक्ष चुनाव- गहलोत, थरूर के बीच दिग्विजय ने उतरने का संकेत देकर मुकाबला दिलचस्प बनाया 
कांग्रेस अध्यक्ष पद के संभावित प्रमुख उम्मीदवार के रूप में देखे जा रहे गहलोत ने एक दिन पहले संकेत दिया था कि वह अध्यक्ष पद और राजस्थान के मुख्यमंत्री का पद दोनों साथ-साथ संभाल सकते हैं। उन्होंने ‘एक व्यक्ति, एक पद’ को लेकर कहा था कि यह व्यवस्था उनके लिए जो किसी पद पर नामित किए जाते हैं। सीधे चुनाव लड़ कर आने वाले पर यह लागू नहीं होता। लेकिन भारत जोड़ो यात्रा के 15 दिन पूरे होने पर केरल के अर्नाकुलम में एक प्रेस कान्फ्रेंस के दौरान राहुल गांधी ने ‘एक व्यक्ति, एक पद’ की वकालत की और कहा कि यह उदयपुर चिंतन शिविर में कांग्रेस पार्टी की एक प्रतिबद्धता है। उन्होंने कहा कि मुझे उम्मीद है कि प्रतिबद्धता को बनाए रखा जाएगा।

बेंगलुरु में छाए बोम्मई की तस्वीर वाले 'PayCM' पोस्टर, जांच के आदेश
राहुल की इस टिप्पणी के बाद इसकी संभावना बढ़ गई है कि कांग्रेस का अध्यक्ष चुने जाने पर गहलोत को मुख्यमंत्री पद छोडऩा पड़ेगा। राहुल ने यह भी साफ कर दिया कि कांग्रेस अध्यक्ष का पद सिर्फ एक संगठनात्मक पद नहीं है, बल्कि यह एक वैचारिक पद और एक विश्वास प्रणाली है। उन्होंने कहा कि जो कोई भी कांग्रेस अध्यक्ष बनता है, उन्हें याद रखना चाहिए कि वह विचारों के एक समूह, विश्वास की एक व्यवस्था और भारत के एक ²ष्टिकोण का प्रतिनिधित्व करते हैं। कांग्रेस के अध्यक्ष पद का चुनाव लडऩे संबंधी सवाल पर राहुल ने कहा कि इस सवाल का उद्देश्य ‘यात्रा से मेरा ध्यान भटकाना है।’ 

MSME को नष्ट करने के लिए नोटबंदी, GST मोदी सरकार के जानबूझकर उठाये गए कदम: राहुल
राहुल गांधी के अध्यक्ष पद स्वीकार नहीं करने के रुख को देखते हुए अशोक गहलोत को ही अध्यक्ष पद का चुनाव लडऩे का प्रबल दावेदार माना जा रहा है। गहलोत ने बुधवार को पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी से इस सिलसिले में मुलाकात की थी। उनका मुकाबला पार्टी के तिरुवनंतपुरम से सांसद शशि थरूर से होगा। थरूर पहले ही अध्यक्ष का चुनाव लडऩे की अपनी मंशा सार्वजनिक कर चुके हैं। सोमवार को उन्होंने सोनिया गांधी से मिल कर अपनी इच्छा से अवगत कराया था। बुधवार को थरूर ने पार्टी के केंद्रीय चुनाव प्राधिकरण प्रमुख मधुसूदन मिस्त्री से भी मिल कर चुनावी प्रक्रिया की जानकारी ली थी। 

-कांग्रेस अध्यक्ष के चुनाव की अधिसूचना जारी
कांग्रेस अध्यक्ष पद के चुनाव के लिए घोषित कार्यक्रम के अनुसार, पार्टी के केंद्रीय चुनाव प्राधिकरण प्रमुख मधुसूदन मिस्त्री ने वीरवार को चुनाव की अधिसूचना जारी कर दी। अब 24 से सुबह 11 बजे से अपराह्न 3 बजे तक नामांकन दाखिल करने की प्रक्रिया शुरू होगी, जो 30 सितम्बर तक चलेगी। एक अक्तूबर को नामांकन करने वालों की सूची जारी होगी। नाम वापसी की अंतिम तिथि 8 अक्तूबर अपराह्न 3 बजे तक है। इसी दिन शाम पांच बजे उम्मीदवारों की अंतिम सूची जारी कर दी जाएगी। एक से अधिक उम्मीदवार रहने की स्थिति में 17 अक्तूबर को सुबह 10 से अपराह्न 4 बजे तक मतदान होगा और नतीजे 19 अक्तूबर को सुबह 10 बजे घोषित किए जाएंगे।     

अध्यक्ष पद चुनाव के लिए कई और नाम उभरे
राहुल गांधी के दोबारा कांग्रेस अध्यक्ष न बनने के अपने रुख पर अड़े रहने के बाद अशोक गहलोत और शशि थरूर के अलावा कई और नाम अब इस पद पर चुनाव लडऩे वालों में शामिल होते जा रहे हैं। पार्टी के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह की ओर से दावेदारी पेश करने के बाद अब पंजाब से कांग्रेस सांसद मनीष तिवारी का भी नाम आ रहा है कि वे अध्यक्ष का चुनाव लडऩे को मैदान में उतर सकते हैं। पार्टी के एक नेता के मुताबिक मनीष सोमवार को दिल्ली आएंगे और नामांकन प्रक्रिया में हिस्सा ले सकते हैं। वहीं, महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चह्वाण, पार्टी महासचिव मुकुल वासनिक के अलावा राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष मल्लिकार्जुन खडग़े के भी नाम की चर्चा शुरू हो गई है।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.