Thursday, Jan 23, 2020
important-meeting-of-opposition-parties-led-by-congress-on-citizenship-bill

नागरिकता विधेयक पर कांग्रेस की अगुवाई में विपक्षी दलों ने की महत्वपूर्ण बैठक 

  • Updated on 12/5/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। मोदी सरकार (Modi Government) के संभावित नागरिकता संशोधन विधेयक (Citizenship Act) का विरोध करने के लिये विपक्षी पार्टियों ने एकजुटता का प्रदर्शन किया है। आज इस मुद्दे पर कांग्रेस (Congress) की अगुवाई में आठ सूत्रीय एजेंडा तय किया। इस बैठक में राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष गुलाम नबी आजाद (Gulab Nabi Azad) ने संसद भवन परिसर में विपक्ष के नेताओं के साथ बैठक कर नागरिकता संशोधन विधेयक को लेकर रणनीति पर चर्चा की।

नागरिकता संशोधन को मायावती ने बताया विभाजनकारी, कहा- पुनर्विचार करे केंद्र

 नागरिकता बिल संविधान के खिलाफ 

इस बैठक में तृणमूल कांग्रेस, द्रमुक,सपा, आम आदमी पार्टी सहित 12 विपक्षी दलों के नेता शामिल थे। विपक्षी दलों ने इस बात पर सहमति जताई है कि यह विधेयक उन सिद्धान्तों के खिलाफ हैं जिनकी राष्ट्र निर्माताओं ने कल्पना की थी। साथ ही नागरिकता के लिए कई ऐसी बुनियाद रखी जा रही है जो संविधान के विरुद्ध है।  

नागरिकता संशोधन बिल को मोदी कैबिनेट की हरी झंडी, अमित शाह करेंगे सदन में पेश

मोदी सरकार एनआरसी पर छिपा रही हैं विफलता

बैठक में शामिल नेताओं के बीच यह राय बनी कि ‘सरकार एनआरसी को लेकर अपनी विफलता छिपाने और असल मुद्दों से ध्यान भटकाने के लिए नागरिकता संशोधन विधेयक को लायी है।’ आप नेता संजय सिंह ने आरोप लगाया कि सरकार यह विधेयक उत्तर प्रदेश और बिहार के लाखों लोगों को देश के दूसरे हिस्सों से बाहर करने के मकसद से ला रही है। इस बीच कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने केरल में कहा कि उनकी पार्टी नागरिकता संशोधन विधेयक का विरोध करेगी।    

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.