Friday, Jun 25, 2021
-->
india-uttrakhand-joshimath-glacier-flood-sobhnt

श्रीनगर बाध की झील में सर्च आपरेशन चलायेगी नेवी की टीम

  • Updated on 2/10/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। भारत की जल सेना ने भी जोशीमठ आपदा में अब मोर्चा थाम लिया है। राहत एवं बचाव कार्य के लिए नेवी की एक टीम श्रीनगर गढ़वाल पहुंची है। यहां अलकनंदा नदी पर बनी श्रीनगर जल विद्युत परियोजना की झील में नेवी की टीम शवों को खोजने का कार्य करेगी। अभी जल विद्युत परियोजना के गेस्ट हाउस में नेवी के अधिकारियों व स्थानीय प्रशासन के मध्य बैठक चल रही है। 

Uttarakhand Glacier Burst: तपोवन आपदा में लापता 202 लोगों में से 29 के शव हुए बरामद

नेवी की टीम थामेगी मोर्चा 
इसके बाद नेवी की टीम अपना मोर्चा थामेगी। रविवार को धौली गंगा में ग्लेशियर टूटने के बाद बाड आ गयी थी।  जिसकी चपेट में बडी संख्या में लोग आये थे। अभी तक 204 से लोगों के लापता होने की सूचना है जबकि 32 शव बरामाद कर लिए गये है। अनुमान लगाया जा रहा है कि तपोवन से शव बहकर श्रीनगर झील तक पहुंचे होगे। जिसकी तलाश में पिछले दो दिनों से यहां एसडीआरएफ की टीम अलकनंदा नदी में सर्च अभियान चला रही है। 

उत्तराखंड त्रासदी: हरियाणा के CM मनोहर लाल खट्टर का बड़ा ऐलान, सीएम राहत कोष से देंगे 11 करोड़ रुपए

SDRFकी तीन टीमें आज सुबह से सर्च अभियान चलाएंगी
एसडीआरएफ की तीन टीमें सोमवार सुबह से ही जीवीके कंपनी की झील में सर्च अभियान चला रही है, लेकिन नदी में अधिक गाद एकत्रित होने के चलते एसडीआरएफ की टीम को सफलता हाथ नहीं लग रही है। अब बुधवार सुबह यहां नेवी की टीम पहुंच गयी है। जिसमें आठ गोताखोर शामिल है। तहसीलदार श्रीनगर सुनील राज ने बताया की नेवी की टीम ने जीवीके हेलीपेट पर लेंडिंग कर दी है। अभी वे स्थानीय प्रशासन के साथ बैठक कर रहे हैं। इसके बाद ही वे झील में उतरेंगे। 

 

यहां पढ़ें अन्य बड़ी खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.