Tuesday, May 17, 2022
-->

एंटी HIV वैक्सीन बनाने के करीब भारतीय वैज्ञानिक

  • Updated on 4/24/2017

Navodayatimesनई दिल्ली/अंकुर शुक्ला।  भारतीय वैज्ञानिकों ने करोड़ों लोगों को संक्रमति करने वाले ह्युमन इम्यूनोडीफिसिएंसी वायरस (एचआईवी) को नियंत्रित करने वाले वैक्सीन की खोज की दिशा में बड़ी सफलता हासिल करने का दावा किया है। वैज्ञानिकों ने भारतीय मरीजों से प्राप्त एचआईवी (सबटाइप-सी) के खिलाफ नए एंटीबॉडी (सी 11) ढूढऩे में कामयाबी मिली है।

अगर आपको मच्छर काटते हैं ज्यादा तो जानिए साइंटिफिक वजह

भारत और अफ्रिका में 90 प्रतिशत मरीज एचआईवी सबटाइप सी से ही प्रभावित हैं। माना जा रहा है कि एचआईवी वैक्सिन तैयार करने में लम्बे समय से जुटे वैज्ञानिकों अब इसकी खोज के करीब पहुंच गए हैं। विशेषज्ञों के मुताबिक रेट्रोवायरल ड्रग्स के साथ इस तरह की वैक्सिन का प्रयोग जहां संक्रमित रोगियों में वायरल लोड कम किया जा सकेगा। वहीं मरीजों को पैसिव इम्यूनोथेरेपी देना भी मुमकिन हो जाएगा।

मल्टीपल एकेलेरॉसिस के इलाज में बीएमटी है उपयोगी

खास बात यह है कि दुर्घटनावश एचआईवी संक्रमण की चपेट में आए मरीजों के शरीर के अंदर कम तादाद में मौजूद वायरस को खत्म करने में भी आसानी होगी। संबंधित अध्ययन एम्स के साथ इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ साइंस बेंगलुरू, ट्रेडिशनल हेल्थ साइंस एंड टेक्नोलॉजी इंस्टिट्यूट फरीदाबाद, वाईआर गाइतोंडे सेंटर फॉर एड्स रिसर्च एंड एजुकेशन चेन्नई, नेशनल ब्रेन रिसर्च सेंटर मानेसर, इंटरनेशनल एड्स वैक्सीन के वैज्ञानिकों के संयुक्त प्रयास से किया जा रहा है।

अध्ययन को इंडो साउथ अफ्रिका प्रोजेक्ट के तहत विज्ञान और प्रोद्योगिकी विभाग वित्त पोषित (फंडिंग) कर रही है। अध्ययन के लिए एम्स नई दिल्ली और वाईआर गाइतोंडे सेंटर फॉर एड्स रिसर्च एंड एजुकेशन चेन्नई में उपचार कराने वाले मरीजों के खून के नमूने लिए गए। पहली बार एचआईवी सबटाइप सी ढूढंने में मिली कामयाबी : दावा किया गया है कि दुनियांभर में एचआईवी-एड्स की उपचार से संबंधित अध्ययनों में से यह पहला अध्ययन है, जिसमें एचआईवी सबटाइप सी को ढूंढने में सफलता मिली है।

बचकर रहें कहीं खराब न हो जाए शरीर का फिल्टर

माना जा रहा है कि ताजा सफलता भविष्य में ऐसी प्रभावी वैक्सीन तैयार करने की राह आसान हो जाएगी। जो बेहतर एंडी बॉडी प्रक्रिया दे सकेगा। शोध से जुड़े वैज्ञानिकों का कहना है कि उन्होंने सफलतापूर्वक एचआईवी को क्रॉस न्यूट्रलाइज करने में कामयाबी हासिल की है। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.