Sunday, Aug 14, 2022
-->
irfaan left behind a huge fan following in every industry vbgunt

तुम्हीं सो गए दास्तां कहते-कहते.. भारत ने खो दिया इरफान ऑस्कर खान

  • Updated on 4/29/2020

नई दिल्ली (विभोर गौड़/टीम डिजिटल)। इरफान खान (irfan khan) अचानक दुनिया को रोता-बिलखता छोड़कर जा चुके हैं। सिनेमा (cinema) में इरफान खान का सफर बहुत ज्यादा लंबा नहीं था, मगर इरफान के फैन्स का उनसे जुड़ाव इससे कहीं ज्यादा पुराना था। एक आसान से उदाहरण से समझा जा सकता  है कि देश में इन दिनों लॉक डाउन है और दूरदर्शन (doordarshan) अपने पुराने बेहद पसंद किए गए टीवी धारावाहिकों को दोबारा चला रहा है। मगर शायद सिर्फ इरफान खान ही ऐसे एक्टर हैं कि इन बेहद पसंद किए जाने वाले धारावाहिकों की फेहरिस्त में उनके दो सीरियल श्री कान्त (shri kant)  और चाणक्य (chcanakya) इन दिनों टीवी पर प्रसारित किए जा रहे हैं।

यहां जानें क्या थी इरफान खान की आखिरी ख्वाहिश, कोरोना की वजह से नहीं हो पाई पूरी

इरफान इन दिनों फारुख शेख के साथ दूरदर्शन पर
श्रीकान्त की पटकथा अपने जमाने के अजीम कलाकार फारुख शेख के इर्द-गिर्द घूमती नजर आती है मगर फिर भी इरफान इस धारावाहिक में अपनी छाप दर्शकों पर छोड़ने में कामयाब रहे। मरहूम फारुख शेख गए जमाने के उम्दा कलाकारों में गिने जाते हैं, मगर उम्र को पूरी तरह मात दे चुके इरफान खान इन दिनों भी मुख्य अभिनेता के किरदार परदे पर उकेर रहे थे। महज कुछ ही दिनों पहले उनकी आखिरी फिल्म हिंदी मीडियम दर्शकों के लिए उनका आखिरी शाहकार रहेगी। आचार्य चाणक्य, के अलावा भारत एक खोज और चंद्रकान्ता सरीखे धारावाहिकों में अपनी बेहद दमदार एक्टिंग का मुज़ायरा करते हुए इरफान ने बता दिया था कि वो अभिनय की दुनिया के बड़े सितारे हैं।

इरफान खान की मौत की खबर के बाद Twitter पर छाया मातम, फैंस ने मानने से किया इनकार

इस कलाकार की कला की कोई हद नहीं
इरफान की हदें कहीं भी खत्म नहीं होती थी। उन्होंने हिंदी धारावाहिकों से अपना कैरियर शुरु किया। इसके बाद बॉलीवुड में काफी अरसे तक अपने प्रयास करते रहे। जब वो निराश होकर लौटने ही वाले थे तो उनके मित्र तिग्मांशू धूलिया ने उन्हें रोकते हुए कहा था कि 'अमां यार, रुको तो, तुम्हें एक राष्ट्रीय अवार्ड दिलवा दें,फिर चले जाना।' तिग्मांशू धूूलिया की हासिल में इरफान एक छात्र नेता और खलनायक बने। बेहद शातिर खलनायक का किरदार निभाकर इरफान ने बड़े पर्दे पर अपनी जबरदस्त धाक जमा दी। और हां, अपना राष्ट्रीय अवॉर्ड भी जीता।

नहीं रहे बॉलीवुड के इरफान खान, मां की यह आरजू भी रह गई अधूरी

8 सालों में बनी लार्जर दैन लाइफ पान सिंह तोमर 
इसी दौरान उनकी पान सिंह तोमर तैयार होनी शुरु हुई। इस फिल्म को बनने में 8 साल का वक्त लगा। मगर लार्ज दैन लाइफ किरदार वाली पान सिंह पर्दे पर भी बड़ी कमाई करने में सफल साबित रही। इसी फिल्म में इरफान की जोड़ी एक छोटा सा किरदार निभाने वाले नवाजुद्दीन सिद्दीकी के साथ बनी जो इस दौर की सबसे तगड़ी जोड़ी मानी जाती है। ये जोड़ी दोबारा लंच बॉक्स में भी दिखी और दर्शकों की आंखें नम कर गई।

बॉलीवुड अभिनेता इरफान खान की मौत पर केजरीवाल ने जताया दुख, कही ये बात

जुरासिक पार्क उनकी सफलता की एक और दास्तां
इरफान खान की सफलता की कहानियों में एक लाइन अक्सर कही-सुनाई जाती है कि जब जुरासिक पार्क बनकर तैयार हुई थी तो इरफान के पास इसके टिकट खरीदने के पैसे नहीं थे। मगर जुरासिक वर्ल्ड में खुद इरफान को कास्ट किया गया। इसके अलावा लाइफ ऑफ पाई और स्पाइडर मैन सरीखी कई हॉलीवुड की फिल्मों में उनकी एक्टिंग पूरी दुनिया में सराही गई। स्लमडॉग मिलेनियर में वो पहली बार हिंदुस्तान को ऑस्कर तक पहुंचाने वाले अभिनेता बने। मगर आज भारत ने अपना ये ऑस्कर अवॉर्ड खो दिया है। इसी के साथ एक्टिंग का एक दौर जो फारुख शेख के साथ शुरु हुआ, अमिताभ बच्चन के साथ कदम मिला सका आज खत्म हो गया। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.