Sunday, Jun 13, 2021
-->
jammu kashmir Gulam nabi azad Narendra modi sobhnt

पीएम मोदी की तारीफ कर बुरे फंसे गुलाम नबी आजाद, अपनी ही पार्टी के नेताओं ने जलाया पुतला

  • Updated on 3/2/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। पूर्व राज्यसभा सांसद और वरिष्ठ कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद (Gulam nabi azad) के जम्मू-कश्मीर में उनके ही पार्टी के लोगों ने नाराजगी दिखाते हुए प्रदर्शन किया है। बता दें हाल में गुलाम नबी आजाद ने देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की जमकर तारीफ की थी। उन्होंने जी-23 नेताओं की रैली को  सम्बोधित करते हुए पीएम नरेन्द्र मोदी (Narendra modi) को जमीन से जुड़ा हुऐ नेता बताया था।  

आयशा बानू सुसाइड केस में आया नया मोड़, पुलिस ने पति आरिफ को किया गिरफ्तार 

गुलाम नबी आजाद के जलाए पुतले
बता दें जम्मू की सड़कों पर कांग्रेस कार्यकर्ता अपने ही नेता के खिलाफ सड़कों पर उतर कर पुतला जला रहे थे। उन्होंने आरोप लगाया है कि कांग्रेस ने गुलाम नबी को इतना सम्मान दिया और जब कांग्रेस को उनकी जरुरत है तब वह बीजेपी से दोस्ती बढ़ा रहे हैं। वह डीडीसी  चुनाव प्रचार के वक्त नहीं आए और अब आकर पीएम की तारीफ कर रहे हैं। गुस्साए कार्यकर्ता अब अपने ही नेता के पुतले जला रहे हैं।  

Good News: जल्द सस्ता हो सकता है पेट्रोल-डीजल, एक्साइज ड्यूटी घटाने पर सरकार कर रही विचार

G-23 के लोगों ने की रैली
बता दें हाल में कुछ दिनों पहले कांग्रेस के जी-23 (Congress G23 Leaders) के प्रमुख नेताओं ने जम्मू में वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद (Gulam Nabi Azad) के नेतृत्व में बैठक की। जिसमें उन लोगों ने पार्टी की खुलकर आलोचना की थी। पतन की ओर जाती कांग्रेस के हालातों पर अब ये नेता खुलकर सामने आ गए हैं और पार्टी के नेतृत्व पर सामने से सवाल उठा रहे हैं। इस बैठक में एक गौर करने वाली बात ये दिखी कि सभी दिग्गज नेता भगवा रंग की पगड़ी पहने नजर आए। 

एक ओर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी चुनावी राज्य तमिलनाडु का दौरा कर रहे हैं। वहीं जम्मू में पार्टी के असंतुष्ट नेता एक कार्यक्रम में इकट्ठा हुए। इस दौरान पूर्व केंद्रीय मंत्री कपिल सिब्बल ने कांग्रेस के कामकाज पर सवाल उठाते हुए कहा कि कांग्रेस उन्हें कमजोर होती दिख रही है। उन्होंने गुलाम नबी आजाद को दोबारा राज्यसभा के लिए नामित ना किए जाने पर भी सवाल उठाए। 

आयशा बानू सुसाइड केस में आया नया मोड़, पुलिस ने पति आरिफ को किया गिरफ्तार

भगवा साफा पहने जुटा G-23
कार्यक्रम में सोनिया-राहुल के पोस्टर नहीं थे। कार्यक्रम के मंच पर गांधी ग्लोबल लिखा था। पार्टी के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद के नेतृत्व में कांग्रेस के कई नेता जम्मू के शांति सम्मेलन में पहुंचे, जिससे गांधी ग्लोबल फैमिली नामक एक एनजीओ ने आयोजित किया। इस दौरान भगवा साफा पहन कर g-23 जुटा हुआ था।

कपिल सिब्बल ने कही ये बात
कपिल सिब्बल ने कहा कि हम नहीं चाहते थे कि गुलाम नबी आजाद साहब को संसद से आजादी मिले, क्योंकि मैं समझता हूं कि जब से वो राजनीति में आए कोई ऐसा मंत्रालय नहीं रहा जिसमें वह मंत्री नहीं रहे। मुझे समझ नहीं आ रहा है कि इस अनुभव को कांग्रेस पार्टी इस्तेमाल क्यों नहीं कर पा रही है।

 

यहां पढ़े अन्य बड़ी खबरें... 

 

comments

.
.
.
.
.