Tuesday, Sep 22, 2020

Live Updates: Unlock 4- Day 21

Last Updated: Mon Sep 21 2020 09:28 PM

corona virus

Total Cases

5,523,917

Recovered

4,440,775

Deaths

88,345

  • INDIA7,843,243
  • MAHARASTRA1,208,642
  • ANDHRA PRADESH631,749
  • TAMIL NADU547,337
  • KARNATAKA526,876
  • UTTAR PRADESH358,893
  • ARUNACHAL PRADESH325,396
  • NEW DELHI246,711
  • WEST BENGAL225,137
  • ODISHA184,122
  • BIHAR180,788
  • TELANGANA172,608
  • ASSAM156,680
  • KERALA131,027
  • GUJARAT124,767
  • RAJASTHAN116,881
  • HARYANA111,257
  • MADHYA PRADESH103,065
  • PUNJAB97,689
  • CHANDIGARH70,777
  • JHARKHAND69,860
  • JAMMU & KASHMIR62,533
  • CHHATTISGARH52,932
  • UTTARAKHAND27,211
  • GOA26,783
  • TRIPURA21,504
  • PUDUCHERRY18,536
  • HIMACHAL PRADESH9,229
  • MANIPUR7,470
  • NAGALAND4,636
  • ANDAMAN AND NICOBAR ISLANDS3,426
  • MEGHALAYA3,296
  • LADAKH3,177
  • DADRA AND NAGAR HAVELI2,658
  • SIKKIM1,989
  • DAMAN AND DIU1,381
  • MIZORAM1,333
Central Helpline Number for CoronaVirus:+91-11-23978046 | Helpline Email Id: ncov2019 @gov.in, ncov219 @gmail.com
jdus slogan will be why should we consider the idea why nitish kumar will be removed from bihar

"बिहार में बहार" को हटाकर "क्यों करें विचार ठीके तो है नीतीश कुमार" होगा JDU का स्लोगन

  • Updated on 9/2/2019

 नई दिल्ली/टीम डिजिटल। बिहार में इस बार आगामी विधानसभा के लिये नए स्लोगन को अंतिम रुप सत्ताधारी जद यू  ने दे दी है जिसमें प्रचारित किया गया है कि  "ठीके तो है नीतीश कुमार"। बता दें कि साल 2015 में JDU का स्लोगन 'बिहार में बहार है' था,और इस साल JDU ने अपने नए स्लोगन होर्डिंग्स पर लिखवाया है- "बिहार में बहार' नहीं बल्कि "क्यों करें विचार, ठीके तो है नीतीश कुमार"। 

PM मोदी ने दिल्ली में किया गुजरात भवन का उद्घाटन

इस नए स्लोगन के जरिए JDU यह साबित करना चाहती है कि बिहार की जनता के पास नीतीश कुमार के अलावा और दूसरा कोई विकल्प नहीं है। इस स्लोगन के माध्यम से JDU बिहार में नीतीश के ठीक होने का संदेश दे रही है, जेडीयू का कहना है कि जब बिहार में नीतीश है तो फिर किसी और उम्मीदवार के लिए क्यों सोचना चाहिये। 

बता दें कि यह नारा पार्टी के कार्यालय के बाहर भी लगा दिया गया है। जेडीयू को यह स्लोगन पार्टी के राष्ट्रीय सचिव उपेन्द्र कुमार सिंह (Upendra kumar singh) ने दिया है। इतना ही नहीं बिहार में इस स्लोगन के साथ "जनता दल" ने विधानसभा चुनाव की तैयारी शुरू कर दी है। इससे पहले 2015 विधानसभा के लोकप्रिय नारे "बिहार में बहार" को  प्रशांत किशोर (Prashant kishore) ने दिया था। 

Image result for बिहार का नया स्लोगन

पूर्व वित्त मंत्री चिदंबरम को नहीं मिली राहत, 1 दिन के लिये बढ़ी सीबीआई कस्टडी

बता दें कि यह नारा बिहार में इतना चला था कि बिहार में आज भी लोग इसकी चर्चा करते हैं। ऐसे में आरजेडी नीतीश कुमार पर निशाना भी साधने लगी है। आरजेडी के कुछ कार्यकर्ताओं ने नीतीश पर ताना कसते हुए कहा कि "बिहार में एके-47 की भी बहार है जेल में जन्मदिन पार्टी गुलजार है ऐसे में क्यों करें विचार ठीके तो है नीतीश कुमार"। 

आरजेडी ने साधा निशाना 

आरजेडी के प्रवक्ता वीरेंद्र और एक विधायक का कहना यह है कि जेडीयू ने यह नया स्लोगन लेकर गलती कर दी, यह जल्दबाजी में लिया गया स्लोगन है जो पार्टी को और भी पीछे कर सकता है। आरजेडी के प्रवक्ताओं की तरफ से बिहार में गुंडागर्दी को लेकर भी बहुत से सवाल उठाए जा रहे हैं, और कहा जा रहा है क्या अब भी ठीके है नीतीश कुमार। इन दिनों इस नए नारे की गांवो के चौपालों में चाय के साथ काफी चर्चा हो रही है।

कुलभूषण से मुलाकात के बाद विदेश मंत्रालय ने कहा, उन पर है भारी दवाब

बिहार के कुछ लोगों का यह भी मानना है कि ,यह नया नारा कहीं नीतीश और जेडीयू को भारी न पड़ जाए। विपक्षी दलों का मानना है कि जेडीयू के कार्यकर्ताओं को नीतीश के अलावा कोई और दिख ही नहीं रहा है। कहीं पार्टी इसी जोश में दूसरे उम्मीदवारों को अंडर स्टीमेट कर कर खुद को भारी मतों का नुकसान भी पहुंचा सकती है। आरजेडी का मानना है कि यह बिहार विधानसभा का चुनाव है और बिहार के लोगों से जुड़ा हुआ है, ऐसे में बिहारी भाषा का स्लोगन देकर बिहार की जनता को आकर्षित किया जा सकता है। 
  
 


  

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.