Saturday, Mar 06, 2021
-->
live delhi tractor rally police tractor rally 22 fir delhi sobhnt

Live: किसान हिंसा पर एक्शन में पुलिस, योगेंद्र यादव समेत आधा दर्जन नेता पर केस

  • Updated on 1/27/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल।  दिल्ली पुलिस (Delhi police) ने मंगलवार को राष्ट्रीय राजधानी में किसानों की ट्रैक्टर परेड के मामले में अब तक 22 प्राथमिकी दर्ज हो गई है। अधिकारियों ने यहां इसकी जानकारी दी। पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि पूर्वी जिले में तीन प्राथमिकी दर्ज की गई है। द्वारका में तीन तथा शाहदरा जिले में एक मामला दर्ज किया गया है। उन्होंने बताया कि और प्राथमिकी दर्ज होने के आसार हैं। इस आंदोलन में शामिल किसान नेता बलजीत सिंह रजवाल, दर्शन पाल, योगेंद्र यादव और गौतम सिंह पर भी मामला दर्ज किया गया है।

पुलिस सूत्रों के अनुसार किसान उपद्रवियों के खिलाफ लालकिले में डकैती डालने, साजिश के तहत सामान चोरी करने का आरोप के साथ- साथ धारा 395, धारा 397, धारा 120b जैसी गंभीर आपराधिक धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है।

सीएम योगी आदित्यनाथ आज प्रदेश के 3.42 लाख लाभार्थियों को देंगे ये सौगात

Live update:-

  • दिल्ली हिंसा को लेकर अब तक कुल 22 केस दर्ज, एफआईआर में कई किसान नेताओं का जिक्र

  • पुलिस ने 200 उपद्रवियों को हिरासत में लिया, दंगा और सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचाने का आरोप 

  •  

पुलिस अवरोधक तोड़े गए
इससे पहले दिन में, तीन कृषि कानूनों के खिलाफ हजारों किसानों ने पुलिस के अवरोधकों को तोड़ दिया और पुलिस के साथ झड़प की, वाहनों में तोड़ फोड़ की और लाल किले पर धार्मिक झंडे फहरा दिये। पुलिस ने बयान जारी कर बताया कि इस हिंसा में पुलिस के 86 जवान हो गये हैं। हिंसा स्थल पर एक प्रदर्शनकारी का ट्रैक्टर पलट गया जिससे उसकी मौत हो गयी ।  बयान में कहा गया है कि संयुक्त किसान मोर्चा की ओर से गणतंत्र दिवस के मौके पर किसान ट्रैक्टर रैली का आयोजन किया गया था । प्रस्तावित ट्रैक्टर परेड के संबंध में मोर्चा के साथ दिल्ली पुलिस की कई दौर की बैठक हुयी थी।       
किसान ट्रैक्टर परेड में हिंसा : सोशल मीडिया में दीप सिद्धू  को लेकर उठे सवाल

6-7 हजार ट्रैक्टर हुए इक्ट्ठा
बयान के अनुसार मंगलवार को सुबह करीब 8:30 बजे छह हजार से सात हजार ट्रैक्टर सिंघू सीमा पर एकत्र हुए । पहले से निर्धारित रास्तों पर जाने के बदले उन्होंने मध्य दिल्ली की ओर जाने पर जोर दिया । बार बार आग्रह के बावजूद निहंगों की अगुवाई में किसानों ने पुलिस पर हमला किया और पुलिस के अवरोधकों को तोड़ दिया । गाजीपुर एवं टीकरी सीमा से भी इसी तरह की घटना की खबरें हैं।       

आचार्य प्रमोद का तंज-  लाल किले का इतना “अपमान” तो किसी “कमजोर” PM के दौर में भी नहीं हुआ

लूटियन जोन की तरफ जाने का प्रयास किया
इसमें कहा गया है कि आइटीओ पर गाजीपुर एवं सिंघू सीमा से आये किसानों के एक बड़े समूह ने लुटियन जोन की तरफ जाने का प्रयास किया। जब पुलिसर्किमयों ने उन्हें रोका तो किसानों का एक वर्ग हिंसक हो गया। उन्होंने अवरोधक तोड़ दिये तथा वहां मौजूद पुलिसर्किमयों को कुचलने का प्रयास किया। पुलिस भीड़ को हटाने में कामयाब रही ।       

 

यहां पढ़ें अन्य बड़ी खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.