Wednesday, May 12, 2021
-->
medical team to continue with the same mask for 5 days vbgunt

मेडिकल स्टाफ और डॉक्टरों को लिए मास्क का टोटा, एक ही मास्क से पांच दिन काम चलाने के आदेश

  • Updated on 4/17/2020

नई दिल्ली टीम डिजिटल। कोरोना के वायरस (corona virus) से ज्यादा इसका खौफ सरकार के लिए सिरदर्द बन चुका है। पीएम मोदी (narendra modi) से लेकर राज्य सरकारें तक कई बार लोगों से घर पर ही बने मास्क (mask) को पहन कर बाहर निकलने की गुजारिश कर चुके हैं। मगर मेडिकल मास्क की कालाबाजारी से लेकर किसी भी कीमत पर एन 95 मास्क को पहनने की जिद अब स्वास्थ्य कर्मियों पर भारी पड़ रही है। आलम ये है कि खुद स्वास्थ्य कर्मियों के लिए मास्क का टोटा पड़ गया है।

कोरोना संकट की मार झेल रहा ऑटो सेक्टर,20 अप्रैल से शुरू नहीं होंगे कार कंपनियों के प्लांट

सरकार से आए निर्देश पांच दिनों तक चलाया जाए मास्क
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने राज्यों के लिए एडवाइजरी जारी करते हुए सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल सीडीसी जारी की है। इन निर्देशों के डॉक्टरों और मेडिकल कर्मियों को एक ही मास्क पांच दिनों तक चलाने की ताकीद की गई है। इसके लिए मेडिकल स्टाफ और डॉक्टरों को पांच मास्क और पांच लिफाफों का सेट दिया जाएगा। हर एक मास्क को दिन भर इस्तेमाल करने के बाद उसे शाम को वापस एक लिफाफे में रखना होगा।

'अगर मास्क पहने हुए हो तो जिंदा हो तुम....' फरहान अख्तर

लिफाफे में बंद रखने से हो जाएगा मास्क सेनिटाइज
अगले दिन दूसरे मास्क के इस्तेमाल के बाद उसे भी लिफाफे में रखना होगा। पांचवे दिन उसी मास्क को दोबारा लगाना होगा। इस तरह एक मास्क का इस्तेमाल पांच बार किया जा सकेगा।

लॉकडाउन: रमजान में रोजा रखने और दुआ मांगने को लेकर शाही इमाम की सलाह

पांच दिन चलाना पड़ेगा एक मास्क
इस तरह 20 दिनों तक पांच ही मास्क के सैट का इस्तेमाल किया जा सकेगा। माना जाता है कि चार दिनों में मास्क पूरी तरह सूख जाता है और उसमें ऊपर लगे हुए वायरस दम तोड़ चुके होते हैं। माना जाता है कि मेडिकल कर्मियों के लिए खास तौर पर तैयार किए गए एन 95 मास्क हर तरह के संक्रमण को रोक सकते हैं। मगर इन मास्क को एक ही बार इस्तेमाल करने की सलाह दी जाती है।

comments

.
.
.
.
.