Monday, May 23, 2022
-->
mtnl-employees-did-not-get-salary-even-on-diwali-started-picketing

एमटीएनएल कर्मचारियों को दिवाली पर भी नहीं मिला वेतन, शुरू किया धरना-प्रदर्शन 

  • Updated on 11/25/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। तीसरी पीआरसी, वेज रिवीजन लागू करवाने, पेंशन के लाभ के लिए कैजुअल सेवाकाल को जोडऩे, एमटीएनएल-बीएसएनएल के रिवाईवल एवं सर्वाईवल के लिए दोनों कंपनियों के शीघ्र विलय और हर महीने समय पर तनख्वाह जैसी मांगों को लेकर आज एमटीएनएल कर्मचारियों ने एमटीएनएल/बीएसएनएल के सीएमडी कार्यालय पर विशाल धरना, प्रदर्षन किया गया। 
       फोरम ऑफ  एमटीएनएल यूनियन्स एण्ड एसोसिएशन्स के तत्वावधान में ये कर्मचारी अधिकरी जुटे। इस मौके पर एमटीएनएल मजदूर संघ के महामंत्री एवं फोरम के संयोजक धर्मराज सिंह ने कहा कि आज एमटीएनएल में कार्यरत व सेवानिवृत्त हजारों कर्मचारी, अधिकारी परेशान हैं, संचार मंत्री, प्रबंधन तुरंत इन्हें राहत दे। कर्मचारियों, अधिकारियों ने यहां अपनी मांग रखते हुए कहा कि प्रबंधन उनके बकाए तुरंत जारी करे। 
       फोरम के चेयरमैन वीके तोमर ने कहा कि सरकार डेपूटेशन पर आए अधिकारियों को 7वें वेतन आयोग के मुताबिक लाभ दे रही है लेकिन दूरसंचार विभाग से एमटीएनएल में आए लोगों को जनवरी 2017 से देय तीसरी पीआरसी, वेज रिवीजन का लाभ देने को तैयार नहीं है। दिवाली पर वेतन तक नहीं दिया जिससे उनके परिवार को काली दिवाली मनानी पड़ी।

प्रबन्धन की मनमानी के चलते इस मंहगाई में कर्मचारियों का जीवन यापन मुश्किल हो गया है। जबकि एमटीएनएल के 80 फीसदी कर्मचारियों ने वीआरएस ले ली है, वेज बिल बहुत कम हो गया है। सेवा देने में विफल प्रबंधन के चलते ही गिरावट हो रही है, उपभोक्ता जा रहे हैं और अपनी नाकामी का ठीकरा कर्मचारियों में फोड़ रहे प्रबंधन को अब जागना होगा। 
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.