Wednesday, Jun 16, 2021
-->
nitin gadkari launch cow dung-based vedic paint farmers earn extra sobhnt

सरकार ने गोबर पेंट को किया लॉन्च, गिनाए आठ फायदे

  • Updated on 1/13/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। ग्रामीण भारत में आज भी बड़े हिस्सों में लोग गाय के गोबर से घर और आंगन लीपते आए है। यह एक तरह से गाय या भैंस के गोबर को पेंट की तरह से इस्तेमाल करते हैं। इन लोगों का मानना है कि यह शुभ होता है। तो ऐसे ही लोगों को ध्यान में रखते हुए केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) ने नए तरह के पेंट को लॉन्च किया है। जिसे उन्होंने गोबर पेंट का नाम दिया है। इस पेंट को खादी और ग्रामोद्योग ने तैयार किया है।

मोदी सरकार ने SC से कहा: किसानों के आन्दोलन में घुस आए हैं ‘खालिस्तानी’ 

सभी रंग हैं मौजूद
बताया जा रहा है कि यह पेंट आम पेंट की तरह ही सभी रंगों में मौजूद है। इसके अलावा सरकार ने इस पेंट के आठ  फायदे भी बताए है। बताया गया है कि यह पेंट पर्यावरण के अनुकुल, गैर विषाक्त पेंट है। वहीं इसका दूसरा फायदा यह एंटी फंगल और एंटी- बैक्टीरियल गुण है। इस पेंट को अंदर और बाहर दोनों सतहों पर लगाया जा सकता है। यह इसके अलावा सफेद रंग के बेस कलर में भी उपलब्ध है।  

कृषि कानूनों पर रोक लगाने के न्यायालय के आदेश की समीक्षा करें महाधिवक्ता: अमरिन्दर सिंह 

नए रोजगार होंगे उपलब्ध 
बताया जा रहा है कि शीशा,पारा, क्रोमियम, आर्सेनिक, कैडमियम जैसी अन्य किसी तरह की धातु का प्रयोग नहीं किया गया है। इस पेंट को पूरी तरह से प्राकृतिक तरह से बनाया गया है। सरकार ने कहा है कि इस देशी पेंट के विकास से रोजगार के नए अवसर पैदा होंगे और लोगों को नौकरी मिलेगी। इसके अलावा यह सस्ते में मिलेगा। इसके अलावा इसका फायदा किसानों को भी मिलेगा। किसान इसके सहारे पैसा कमा सकते हैं। वहीं गोबर की समस्या भी खत्म होगी। 

श्रमिकों के पंजीकरण में अनियमितता, सिसोदिया ने प्रबंधक को किया बर्खास्त

पेंट की कीमत है कम
बता दें यह पेंट प्राकृतिक डिस्टेंवर और इमल्शन पेंट के रुप में उपलब्ध है। सरकार की तरफ से कहा जा रहा है कि इस प्राकृतिक पेंट की कीमत अन्य पेंटों की तुलना में काफी सस्ता है। इसलिए इसका और विकास किया जाएगा। इसकी फिल्हाल कीमत डिस्टेंपर 120 रुपए लीटर और इमल्सन की कीमत 225 रुपए लीटर होगी। नितिन गडकरी इसके लॉन्च के समय मौजूद थे। 

मोदी सरकार ने SC से कहा: किसानों के आन्दोलन में घुस आए हैं ‘खालिस्तानी’

प्रयोगशाला में हुआ परीक्षण
भारतीय खादी और ग्रामोद्योग ने इसका पेंट का परीक्षण देश की तीन प्रतिष्ठित प्रयोगशाला में किया है। और यह सभी पेंट सभी पैमानों पर सफलतापूर्वक खरा उतरा है। बता दें इस पेंट में 'एप्लिकेशन ऑफ पेंट, थिनिंग प्रॉपर्टीज, ड्राइंग टाइम एंड फिनिश' जैसे सभी प्रयोग को शामिल किया गया था। यह सभी परीक्षणों को सफलता से पूरा कर सका था। इस पेंट 4 घण्टे से भी कम समय में सूख जाता है। 

16 जनवरी से शुरु होगा वैक्सीनेशन
गौरतलब है कि 16 जनवरी को पूरे देश में कोरोना वैक्सीनेशन शुरु कर दिया जाएगा। इसके लिए पूरे देश में कोरोना केंद्रों को निमार्ण किया गया है। सरकार ने सबसे पहले लिस्ट तैयार की है जिनमें हेल्थवर्करों के नाम शामिल किए गए हैं।  सरकार ने बड़ी संख्या में लोगों के नाम शामिल किए गए हैं। इसके बाद सरकार आम नागरिकों का भी टीकाकरण करेगी। सरकार ने अभी जून तक 1 करोड़ लोगो के वैक्सीनेशन का प्लान तैयार किया है।   

 

यहां पढ़ें अन्य बड़ी खबरें...


Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.