Sunday, Jun 13, 2021
-->
nsa ajit doval security sobhnt

जैश के आतंकी के पास से मिली NSA अजीत डोभाल के ऑफिस की वीडियो, बढ़ाई गई सुरक्षा

  • Updated on 2/13/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। देश के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA) अजीत डोभाल (Ajit Doval) को लेकर बड़ी खबर आ रही है। बता दें जैश से जुड़े हिदायत-उल्लाह मलिक के पास से एक वीडियो मिला है। जिसमें अजीत डोभाल के ऑफिस की रेकी की वीडियो मिली है। जिसके बाद सुरक्षा एजेंसियों ने डोभाल की  सुरक्षा बढ़ा दी है। बता दें मलिक  जैश के फ्रंट ग्रुप लश्कर-ए-मुस्तफा का प्रमुख बताया जा रहा है।  

भारत मुफ्त में दे रहा है कोवैक्सीन, फिर भी कोई देश नहीं लेने को तैयार

वीडियो पाकिस्तान भेजा
बताया जा रहा है कि मलिक ने जो वीडियो रिकॉर्ड किया है। वह पिछले साल का है मलिक ने इस वीडियो में अजीत डोभाल के ऑफिस की रेकी की है। इसके अलावा श्री नगर की भी एक वीडियो बनाया है। जिसके बाद उसने यह वीडियो पाकिस्तान में अपने आकाओं को भेजा है। जिसके बाद सुरक्षा एजेंसियों ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार की सुरक्षा को बढ़ा दिया है। बता दें पुलिस ने इस संबध में एफआईआर भी दर्ज की है। मलिक को बताया जा रहा है कि वह जैश ग्रुप के प्रमुख लश्कर-ए-मुस्तफा का प्रमुख है। बता दें उसे अनंतनाग से गिरफ्तार किया गया है। मलिक के पास से बता दें हथियार और विस्फोटक बरामद किए गए।    

तमिलनाडु की पटाखा फैक्ट्री में आग से मरने वालों का आंकड़ा बढ़कर 19 हुआ, मुआवजे का ऐलान

आतंकी मचा सकते हैं आतंक

खुफिया एजेंसियों ने बताया है कि जम्मू-कश्मीर में एक बार से फिर आतंकवादी आतंक मचा सकते हैं। यह लोग एक बार फिर से जम्मू-कश्मीर में फिर से पुराने दिनों को  लौटाना चाहते हैं। बता दें जम्मू-कश्मीर में तुर्की और पाकिस्तान के माध्यम से भारी संख्या में फंड भेजा जा रहा है। गौरतलब है कि दुबई और अन्य जगहों से लगातार ऐसा फंड इकट्ठा किया जा रहा है। जिसके जरिए घाटी में महौल बिगाड़ा जा सके। 

कृषि कानून: प्रियंका गांधी का आरोप- योगी सरकार ने UP के गन्ना किसानों की दुर्गति कर दी है

महौल को अशांत कना चाहते हैं
बता दें पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई लगातार विरोधी विरोधी आतंकी संस्थानों को फंड कर रही है। इसके अलावा आईएसआई लगतार घाटी से 370 हटाए जाने के बाद वहां महौल को अशांत करना चाहती है। वह पहले भी इंटरनेट के माध्यम से घाटी में महौल खराब करता था। वह वहां युवाओं को भड़काने के लिए सोशल मीडिया के सहारे कई फेक अकाउंट बनाकर लोगों को हिंसा के लिए उकसाता था। 

 

ये भी पढ़ें:

comments

.
.
.
.
.