Tuesday, Dec 06, 2022
-->
priyanka chaturvedi targets cm yogi on hathras gang rape case pragnt

प्रियंका चतुर्वेदी ने साधा CM योगी पर निशाना, कहा- पीड़िता की नहीं, इंसानियत की टूटी रीढ़ की हड्डी

  • Updated on 9/30/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के हाथरस (Hathras) में युवती के साथ हुए कथित सामुहिक बलात्कार की घटना को लेकर प्रदेश की योगी सरकार (Yogi Government) विपक्ष के निशाने पर आ गई है। ऐसे में शिवसेना नेता प्रियंका चतुर्वेदी (Priyanka Chaturvedi) ने भी योगी आदित्यनाथ को निशाने पर लेते हुए तंज कसा है।

हाथरस गैंग रेप पीड़िता की जलती चिता पर हंसती नजर आई यूपी पुलिस

योगी सरकार पर किया हमला
प्रियंका चतुर्वेदी ने कहा कि यह घटना देश का एक और दुर्भाग्यपूर्ण इतिहास है जो उस राज्य में रचा गया है जहां कि महिलाओं को 2017 में सुरक्षा का वादा किया गया था। ये रीढ़ की हड्डी उस लड़की की नहीं, ये रीढ़ की हड्डी वहां के प्रशासन की, शासन की और इंसानियत की टूटी है।

हाथरस कांड पर जमकर फूटा सेलेब्स का गुस्सा, इन एक्ट्रसेेस ने मांगा इंसाफ

अंतिम संस्कार को लेकर भी साधा निशाना
इसके साथ ही उन्होंने लगातार कई ट्वीट किए जिसमें उन्होंने योगी सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा, 'जिस तरह कल रात हाथरस की बिटिया के अंतिम संस्कार को रात ही में करने के लिए उसके माता-पिता पर दबाव बनाया और फिर परिवार वालों की बेरिकेडिंग कर, रात में ही पुलिस द्वारा उसके शव को जला दिया गया वह साफ़ बताता है कि उत्तर प्रदेश सरकार न ही महिलाओं की सुरक्षा कर सकी न ही धर्म की।'

हाथरस घटना पर PM मोदी ने की CM योगी से बात, दोषियों के विरुद्ध कठोर कार्रवाई के दिए निर्देश

क्या था मामला
दरअसल, 14 सितंबर को चार पुरुषों ने हाथरस के एक गांव में युवती से सामूहिक बलात्कार किया था। अलीगढ़ के जेएन मेडिकल कॉलेज अस्पताल में उसे भर्ती कराया गया था। उसकी हालत और खराब होने के बाद उसे दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में भेजा गया, जहां उसने मंगलवार को दम तोड़ दिया।

हाथरस कांड को लेकर सीएम योगी से प्रियंका गांधी ने पूछे कुछ अहम सवाल

लोगों ने रात में अंतिम संस्कार किए जाने का किया विरोध
मिली जानकारी के मुताबिक, पुलिस जब शव लेकर पीड़िता के गांव पहुंची तो लोगों ने रात में अंतिम संस्कार नहीं किए जाने को लेकर काफी विरोध किया। दरअसल, परिवार की मांग थी कि सीएम योगी आएं और उनकी सुनवाई करें, लेकिन पुलिसवालों पर आरोप है कि उन्होंने परिवार की मांगों को दरकिनार करते हुए खुद ही शव का अंतिम संस्कार कर दिया। 

हाथरस कांड: परिजनों के भारी विरोध के बाद भी पुलिस ने करवाया पीड़िता का अंतिम संस्कार

सीएम योगी ने किया SIT का गठन
वहीं, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) युवती के साथ हुए कथित सामूहिक बलात्कार और बाद में इलाज के दौरान हुई उसकी मौत के मामले में बुधवार को तीन सदस्यीय विशेष जांच दल का गठन किया, जिसके अध्यक्ष उप्र शासन के गृह सचिव भगवान स्वरूप होंगे। एसआईटी अपनी रिपोर्ट सात दिन में पेश करेगी। 

comments

.
.
.
.
.