Friday, Jan 21, 2022
-->
stubble-burning-at-peak-in-north-india-aqi-is-bad

उत्तर भारत में चरम पर जल रही है पराली, खराब है एक्यूआई  

  • Updated on 10/30/2021


नई दिल्ली/टीम डिजिटल। पंजाब, हरियाणा में पराली आज चरम पर नजर आ रही है और इसीलिए दिल्ली में वायु गुणवत्ता भी लगातार चौथे दिन खराब रही। विज्ञान मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, पराली जलाए जाने का दिल्ली के पीएम2.5 प्रदूषण में 12 प्रतिशत योगदान रहा।
इसीलिए दिल्ली के कई इलाकों में आज भी बहुत खराब एक्यूआई दर्ज किया गया और वैज्ञानिकों की माने तो अभी प्रदूषण स्तर और खराब होने के अनुमान हैं। 
      पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय की वायु गुणवत्ता पूर्वानुमान एजेंसी सफर के अनुसार, शुक्रवार को दिल्ली के उत्तर-पश्चिमी क्षेत्र में खेतों में आग जलने की 1,800 से अधिक घटनाएं सामने आईं जबकि शनिवार को यह 2400 से अधिक दिखाई दे रही हैं। वैज्ञानिक रविंद्र खईवाल ने बताया कि विभिन्न सेटेलाइट्स के पिक्चर बताते हैं कि पंजाब, हरियाणा सहित उत्तर भारत के कई इलाकों में 2400 जगह आग जल रही है। 
      केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के आंकड़ों से पता चलता है कि राजधानी में 24 घंटे का औसत वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 268 दर्ज किया गया। सफर ने कहा कि हवा की दिशा उत्तर-पश्चिम से दक्षिण-पूर्वी दिशा में बदलने के कारण रविवार को वायु गुणवत्ता में सुधार के साथ इसके मध्यम श्रेणी में रहने की संभावना है। 
       इसके साथ ही ग्रेडेड रिस्पांस एक्शन प्लान (जीआरएपी) पर सब कमेटी ने भी दिल्ली-एनसीआर में आने वाले अन्य राज्यों के अधिकारियों को जीआरएपी के तहत खराब से मध्यम, एक्यूआई श्रेणी के तहत सूचीबद्ध उपायों के अलावा बहुत खराब श्रेणी के तहत उपायों को लागू करने का निर्देश दिया था। जीआरएपी दिल्ली और उसके आसपास के शहरों में प्रदूषण रोधी उपाय संबंधी नियम हैं जो स्थिति की गंभीरता के अनुसार अक्तूबर के मध्य में तब लागू होता है, जब क्षेत्र में वायु प्रदूषण का स्तर बिगडऩा शुरू हो जाता है।  
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.