Tuesday, Jul 05, 2022
-->
swati-maliwal-appears-in-mumbai-court-to-record-statement-against-mla-abu-azmi

विधायक अबू आजमी के खिलाफ बयान दर्ज कराने के लिए मुम्बई की अदालत में पेश हुई स्वाती मालीवाल

  • Updated on 5/25/2022

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल बुधवार को मुंबई की एक अदालत में विधायक अबू आजमी के खिलाफ महिलाओं के खिलाफ महिला द्वेषपूर्ण बयान देने के लिए दर्ज प्राथमिकी से संबंधित मामले में गवाह के रूप में पेश हुईं। अबू आज़मी के खिलाफ जनवरी 2017 में उनकी गलत टिप्पणियों के लिए दिल्ली महिला आयोग के हस्तक्षेप के बाद एफआईआर दर्ज की गई थी।

राजधानी में बादल छाए रहने से रहा पारा सामान्य से कम , हफ्तेभर तक लू चलने की संभावना नहीं

साल 2017 का है मामला
2017 के नए साल की पूर्व संध्या पर, कर्नाटक के बेंगलुरु में कई लड़कियों के साथ सामूहिक छेड़छाड़ का मामला सामने आया था। उक्त घटना के बाद अबू आज़मी ने मीडिया में ऐसा बयान दिया जो अपमानजनक और महिलाओं के प्रति द्वेषपूर्ण था। इस संबंध में आयोग ने दिल्ली पुलिस आयुक्त को पत्र भेजकर अबू आजमी के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने की सिफारिश की थी।  इसके बाद आयोग ने दिल्ली पुलिस को कई रिमाइंडर नोटिस भेजे ।  कई नोटिसों के बाद, दिल्ली पुलिस द्वारा 7 दिसंबर 2017 को एक ज़ीरो एफआईआर  दर्ज की गई और उसे मुंबई पुलिस को भेज  दिया गया। इसके बाद, अबू  आज़मी के खिलाफ मुंबई के  कोलाबा थाने में आईपीसी की धारा 294बी के तहत मामला दर्ज किया गया था। मामले में बयान देने के लिए मुंबई कोर्ट ने दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष को बुलाया था। स्वाति मालीवाल बुधवार को कोर्ट में पेश हुईं और अपना बयान दिया। अब मामले की सुनवाई 18 जून को होगी। स्वाति मालीवाल ने कहा कि महिलाओं के प्रति राजनेताओं द्वारा इस तरह के बयान महिलाओं के प्रति गलत मानसिकता को प्रोत्सिाहित करते है। ये कथन समाज को नकारात्मक रूप से प्रभावित करते हैं और उसकी सोच को पीछे की ओर ले जाते हैं। इस तरह के बयान देने वाले राजनेताओं के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जानी चाहिए,ताकि वे इस तरह के द्वेषपूर्ण बयान देने से बचें।  

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.