Wednesday, Jun 16, 2021
-->
tauktae cyclone reached goa ndrf completes preparations anjsnt

Cyclone Tauktae: मौसम विभाग की चेतावनी- 24 घंटे में और खतरनाक होगा 'तौकते' तूफान

  • Updated on 5/16/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। कोरोना महामारी के बीच अब एक चक्रवात कई शहरों में उत्पात मचाने आ रहा है। अरब सागर से उठे इस चक्रवात तूफान तौकते को लेकर देश के कई राज्यों में अलर्ट जारी कर दिया है। मौसम विभाग की मानें तो ये  तूफान गुजरात में ज्यादा प्रभावी होने वाला है। इसकी एक वजह ये भी है कि ये तौकते तूफान गुजरात के वेरावल और पोरबंदर  के बीच स्थित मांगरोल तट के पास टकराएगा।

Live Update---

  • Cyclone Tauktae Live: मौसम विभाग की चेतावनी- 24 घंटे में और खतरनाक होगा 'तौकते' तूफान

  • गोवा पहुंचा चक्रवात, कर्नाटक में 4 लोगों की मौत

  • गोवा पहुंचा चक्रवात तौकते

  • साइक्लोन तौकते की वजह से  मुंबई से 580 कोरोना मरीजों को  किया गया शिफ्ट

  • 17 मई तक गुजरात के तटों तक पहुंचने की संभावना

  • गुजरात सरकार ने तैयारी की पूरी, नियंत्रण कक्ष स्थापित किया

  • गुजरात तट से मछली पकड़ने  का कार्य कुछ दिनों के लिए स्थगित किया गया

  • वायुसेना ने तैयारी की पूरी,16 मालवाहक विमान तैयार
  • एनडीआरएफ ने अपनी टीमों की संख्या 53 से बढ़ाकर 100 कर दी है

काफी ताकतवर है ये चक्रवात
इस चक्रवात को लेकर मौसम विभाग ने पहले ही चेतावनी दे दी है कि ये तूफान काफी ताकतवर है।  ये अपने साथ 150 से 160 किलोमीटर की हवाएं लेकर चल रहा  है।जिसके कारण मौसम विभाग ने कहा कि इस चक्रवात का असर  महाराष्ट्र , केरल और गुजरात के तटों पर तीन दिन तक रहने वाला है।

175 kmph हो सकती है रफ्तार
आईएमडी के चक्रवात चेतावनी प्रभाग ने कहा कि 16-19 मई के बीच पूरी संभावना है कि यह 150-160 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार वाली हवाओं के साथ एक 'अत्यंत भीषण चक्रवाती तूफान' में तब्दील होगा। हवाओं की रफ्तार बीच-बीच में 175 किलोमीटर प्रति घंटा भी हो सकती है। इसके मद्देनजर मौसम विभाग ने पश्चिमी तटीय राज्य को सतर्क किया है और एनडीआरएफ के 53 दलों को राहत व बचाव कार्य के लिए लगाया है। तूफान को 'तौकते' नाम म्यांमा ने दिया है जिसका मतलब 'छिपकली' होता है। इस साल भारतीय तट पर यह पहला चक्रवाती तूफान होगा।

ऑक्सीजन संयंत्रों के आवंटन को लेकर ममता ने पीएम मोदी को लिखा पत्र

तैयार हैं नौसेना और एनडीआरएफ
वहीं इस चक्रवात तौकते के शनिवार सुबह तक कोच्चि के पास एक चक्रवाती तूफान में बदलने की संभावना है, ऐसे में भारतीय नौसेना को सूचित किया गया, और भारतीय नौसेना के प्रवक्ता के एक ट्वीट में बताया कि शुक्रवार की शाम को कोच्चि से 240 एनएम उत्तर-पश्चिम का दबाव 15 तारीख की सुबह तक चक्रवाती तूफान तौकते में बदलने की संभावना है।

इसके अलावा राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल चक्रवात-तौकते से पहले अच्छी तरह से तैयार है। बताया जा रहा है कि चक्रवात तौकता का असर सबसे ज्यादा केरल, तमिलनाडु, कर्नाटक, गुजरात और महाराष्ट्र के तटों पर देखने को मिल सकता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.