Sunday, May 31, 2020

Live Updates: 67th day of lockdown

Last Updated: Sat May 30 2020 11:28 PM

corona virus

Total Cases

174,000

Recovered

82,369

Deaths

4,971

  • INDIA7,843,243
  • MAHARASTRA62,228
  • TAMIL NADU20,246
  • NEW DELHI17,387
  • GUJARAT15,944
  • RAJASTHAN8,365
  • MADHYA PRADESH7,645
  • UTTAR PRADESH7,445
  • WEST BENGAL4,813
  • BIHAR3,359
  • ANDHRA PRADESH3,330
  • KARNATAKA2,781
  • TELANGANA2,425
  • PUNJAB2,197
  • JAMMU & KASHMIR2,164
  • ODISHA1,723
  • HARYANA1,721
  • KERALA1,151
  • ASSAM1,058
  • UTTARAKHAND716
  • JHARKHAND521
  • CHHATTISGARH415
  • HIMACHAL PRADESH295
  • CHANDIGARH289
  • TRIPURA254
  • GOA69
  • MANIPUR59
  • PUDUCHERRY53
  • ANDAMAN AND NICOBAR ISLANDS33
  • MEGHALAYA27
  • NAGALAND25
  • ARUNACHAL PRADESH3
  • DADRA AND NAGAR HAVELI2
  • DAMAN AND DIU2
  • MIZORAM1
  • SIKKIM1
Central Helpline Number for CoronaVirus:+91-11-23978046 | Helpline Email Id: ncov2019 @gov.in, ncov219 @gmail.com
the life can change just in four hours  your day vbgunt

संकल्प, प्राणायाम, योग साधना और पांच घंटे के लिए टीवी-मोबाइल से दूरी, बदल जाएगी जिंदगी

  • Updated on 4/16/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। कोरोना (corona virus) का कहर चारों ओर है और सरकारी लॉक डाउन पार्ट 2 (lock down) लगा दिया गया है। पहले 21 और अब 19 दिनों के लॉक डाउन में आप सिर्फ अपने परिजनों के साथ घर के अंदर ही बंद हैं। कुछ सरकारी बंदिशें हैं, कुछ समाज का दबाव और कुछ वक्त का तकाजा है कि इन दिनों अपनी जिम्मेदारी समझते हुए घर पर ही रहा जाए। लिहाजा इन्हीं दिनों में आप घर पर रहकर ही अपने जीवन में यू टर्न भी ला सकते हैं। बचे-खुचे दिनों का सही से उपयोग करके सिर्फ इतने से दिनों में ही आप एक बेहतरीन परिणाम भी दिखा सकते हैं।

लॉक डाऊन में पूरी करें नींद, गहरी नींद से दूर हो सकती हैं कई बीमारियां

सिर्फ चार घंटे रोजाना देकर बदल सकते हैं जिदगी जीने के मायने
नाद योग (naad yoga) में डॉक्टरेट करने के बाद बीते 17 सालों से योग सिखा और पढ़ा रहे डॉ नवदीप जोशी बताते हैं कि अभी हमारे पास योग साधना की अभ्यास के लिए कम से कम 18 दिन हैं। इतने दिनों में सिर्फ रोजाना चार घंटा भी अगर खुद के लिए निकाल सकते हैं तो जिंदगी में बेहतरीन बदलाव होते हुए हम खुद देख सकते हैं।

लॉकडाउन में घर बैठे ही करें इन यूजफुल सुपर एप को एंजॉय, बोर न होने की गारंटी!

एक घंटा मौन व्रत में विपश्यना से आयेगा बदलाव
नवदीप जोशी बताते हैं कि सबसे अहम है कि एक घंटे के लिए पूरी तरह मौन व्रत रखना है। एक घंटे के लिए कुछ भी बोलना नहीं है। इस दौरान स्वाध्याय कर सकते हैं मगर मोबाइल या टीवी से दूर रहना है। एक घंटा आसन या व्यायाम, एक घंटा प्राणायाम और एक घंटा सिर्फ ध्यान लगाना है। अगर घर पर ही हैं तो एक घंटा बच्चों के साथ दौड़ने वाले केल भी खेल सकते हैं। मगर हर घंटे से पहले सिर्फ दस मिनट के लिए नाद योग का अभ्यास करना है।

तीन हफ्तों में सुधार सकते हैं शेप, हर हफ्ते बदलें एक्सरसाईज पैटर्न

सकारात्मक बदलाव के लिए संकल्प
इस दौरान सकारात्मक बदलाव के लिए संकल्प करना है मसलन मै स्वस्थ होता जा रहा हूं, आत्मा शक्ति बढ़ती जा रही है, परिवार के प्रत्येक सदस्य के साथ मेरा सहयोग एवं प्रेम बढ़ता जा रहा है, आज मैं शांत- आनंद एवं ईश्वर का अनुभव कर रहा हूं। डॉ जोशी के मुताबिक ध्यान रखें कुल मिलाकर पांच घंटों तक मोबाइल या टीवी से दूरी बनाए रखनी है। किसी भी सूरत में टीवी या मोबाइल नहीं चलाना है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.