Monday, Jul 16, 2018

जानें किसने बनाया था पहला रसगुल्ला, उनकी याद में डाक विभाग करने वाला है ऐसा काम

  • Updated on 2/13/2018

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। रसगुल्ले का नाम सुनते ही किसी के भी मुहं में पानी आना स्वाभाविक है। बंगाल का रसगुल्ला केवल देशभर में ही नहीं बल्कि विदेश में भी मशहूर है। लेकिन बहुत कम लोग ये बात जानते हैं की पहला रसगुल्ला किसने और कब बनाया था। 

#VALENTINESDAY पर हैं अकेले तो न हो निराश: किराए पर बनाए बॉयफ्रेंड, जानें पैकेज

बता दें कि सबसे पहला रसगुल्ला 19वीं शताब्दी में बनाया गया था जिसे बंगाल के दिवगंत हलवाई नोबिन चंद्र दास ने बनाया था। लोगों को इतनी स्वादिष्ट चीज देने के लिए भारत के डाक विभाग ने नोबिन चंद्र दास का सम्मान करने का विचार किया है। दरअसल डाक विभाग ने सबसे पहला रसगुल्ला बनाने वाले बंगाल के दिवंगत हलवाई नोबिन चन्द्र दास पर एक विशेष कवर लाने का फैसला किया है। इस बारे में जानकारी विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने दी।

Navodayatimes

रसगुल्ले का आविष्कार हुए 150 साल हो चुके हैं। इसी के चलते डाक विभाग ने यह फैसला लिया। बता दें कि पिछले साल नवंबर में ही इस रसगुल्ले के लिए पश्चिम बंगाल को भौगिलिक पहचान (जीआई) का टैग हासिल हुआ।

इस बारे में पश्चिम बंगाल सर्कल की मुख्य महाडाकपाल अरुंधति घोष ने बताया कि हम जल्द ही नोबिन चंद्र दास पर एक विशेष कवर लाने की योजना बना रहे हैं। विभाग ने इस मामले में पुष्टिकरण के लिए जीआई पंजीकरण कार्यालय को एक पत्र लिखा है और इसकी पुष्टि हो जाने के बाद इसे अंतिम रूप दिया जाएगा और विशेष कवर का डिजाइन जारी कर दिया जाएगा।

एशिया के सबसे रईस गांवों की लिस्ट में शामिल हुआ भारत का ये गांव, हर घर बना करोड़पति

वहीं मिठाई निर्माता कंपनी के सी दास प्राइवेट लिमिटेड के निदेशक धीमन दास ने इस कदम का स्वागत किया है। धीमन दास नोबिन चंद्र दास के परपोते हैं।

खास बात ये है कि एक समय पर ओडिशा और पश्चिम बंगाल के बीच काफी वक्त तक लड़ाई चली की रसगुल्ले का उत्पाद कहां से हुआ। पश्चिम बंगाल ने दावा किया था कि रसगुल्ला का अविष्कार उनके राज्य में हुआ था और इसे 1868 से पहले ही मशहूर मिठाई निर्माता नोबिन चंद्र दास ने बनाया था। वहीं ओडिशा से भी दावा करने के लिए टैग मांगा गया था लेकिन बाद में जीत बंगाल की हुई।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.