Thursday, May 06, 2021
-->
time bound for vaccination expired administered anytime in 24 hours djsgnt

टीकाकरण लगवाने की टाइमिंग की बाध्यता समाप्त, 24 घंटे में कभी भी लगवा सकते हैं वैक्सीन

  • Updated on 3/3/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। कोरोना संकट के खिलाफ देशभर में टीकाकरण का काम शुरू हो गया है। टीकाकरण का काम अलग-अलग चरणों में किया जा रहा है। टीकाकरण के दूसरे चरण में 45 साल से ऊपर के लोगों को टीका दिया जा रहा है। अब तक लोगों को केवल सुबह 9 बजे से शाम 5 बजे तक ही टीका लगाया जा रहा था। लेकिन अब से इस नियम को खत्म कर दिया गया है।   

निजी अस्पतालों में बने टीकाकरण केंद्रो पर अपनी सुविधा के हिसाब से 24 घंटों में कभी भी टीका लगवा सकते हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने इसकी जानकारी देते हुए कहा सरकार ने यह फैसला टीकाकरण अभियान की रफ्तार बढ़ाने के लिए किया है। उन्‍होंने बुधवार को एक ट्वीट में कहा, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश के नागरिकों के स्वास्थ्य के साथ-साथ उनके समय की कीमत बखूबी समझते हैं। सरकार ने मंगलवार को निजी अस्‍पतालों को टीकाकरण केंद्र बनाने से जुड़ी शर्तों में भी ढील दी थी।

सरकार ने राज्‍य सरकारों को भी यह छूट दी है कि अगर वे चाहें तो सरकारी अस्‍पतालों में भी ये सुविधा दे सकती हैं। केंद्र सरकार के अनुसार, राज्यों को 5 करोड़ डोज भेजी जा चुकी हैं।

गौरतलब है कि टीकाकरण (Vaccination) अभियान के दूसरे चरण के सोमवार से शुरू होने के बाद से कोविड-19 टीकाकरण के लिए पंजीकरण करने वाले 50 लाख से अधिक लाभार्थियों के साथ और देश के कई हिस्सों में भीड़भाड़ के कारण केंद्र ने मंगलवार को राज्यों को अपने निजी अस्पतालों का उपयोग करने का निर्देश दिया। टीकाकरण अभ्यास के लिए सरकारी स्वास्थ्य बीमा योजनाओं के तहत समान नहीं हैं।

केंद्र ने यह भी कहा है कि अस्पताल राज्य सरकारों के परामर्श से अपने टीकाकरण सत्रों का विस्तार कर सकते हैं, और यह कि सत्र को शाम 5 बजे तक सीमित करना अनिवार्य नहीं है। इसके अलावा, राज्यों और अस्पतालों से कहा गया है कि वे टीकाकरण स्लॉट को 15 दिनों से एक महीने के लिए खोलें। वर्तमान में सह-विन पोर्टल पर आवेदन करने वाले लाभार्थी केवल एक सप्ताह के लिए स्लॉट पा सकते हैं।

राहुल ने देश में एमरजेंसी को बताया गलत, कहा- केंद्र सरकार को लेकर कही ये बात

2,287 हेल्थ केयर वर्कर भी शामिल
कोरोना वायरस रोधी वैक्सीन लगवाने में बुजुर्ग सबसे आगे हैं। दूसरे दिन मंगलवार को 60 वर्ष से अधिक उम्र के 10,213 बुजुर्गों ने वैक्सीन का पहला डोज लिया।  हेल्थ केयर वर्करों और फ्रंटलाइन वर्करों की तुलना में दूसरे दिन भी सबसे ज्यादा बुजुर्गों ने टीका लगवाया। वहीं, किसी बीमारी से ग्रसित 45 वर्ष से ज्यादा उम्र के 1,442 लोगों ने टीका लगवाया। एक दिन में कुल 21277 लोगों ने टीका लगवाया। इसमें 3,659 फंट्रलाइन वर्कर और 2,287 हेल्थ केयर वर्कर भी शामिल हैं। जबकि 3676 हेल्थ केयर वर्कर ने वैक्सीन की दूसरी डोज ली।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.