Tuesday, Jun 28, 2022
-->
Train will travel from Ayodhya to Rameswaram including all Ramdham

अयोध्या से रामेश्वरम सहित सभी रामधाम की सैर कराएगी ट्रेन

  • Updated on 5/10/2022

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। भगवान श्रीराम में आस्था रखने वाले श्रद्धालुओं के लिए पहली वातानुकूलित भारत गौरव ट्रेन श्री रामायण यात्रा के लिए चलाई जाएगी। यह विशेष पर्यटक ट्रेन 21 जून को चलेगी श्रीराम से जुड़े सभी महत्वपूर्ण धार्मिक स्थलों का भ्रमण व दर्शन कराएगी। पूरी यात्रा में कुल 18 दिन लगेंगे और पहला प्रभु राम जन्मस्थान अयोध्या होगा। 
अयोध्या से नेपाल के जनकपुर धाम 
    अयोध्या में राम जन्मभूमि, हनुमान मंदिर व नंदीग्राम में भरत मंदिर के दर्शन के बाद ट्रेन बक्सर जाएगी जहां विश्वामित्र जी का आश्रम व रामरेखा घाट पर गंगा स्नान कर सकेंगे। इसके बाद ट्रेन सीतामढ़ी, जानकी जन्म स्थान व नेपाल के जनकपुर स्थित राम जानकी मंदिर दर्शन करवाएगी। ट्रेन का अगला पड़ाव भगवान शिव की नगरी काशी होगा जहां से पर्यटक बसों द्वारा काशी के प्रसिद्ध मंदिरों सहित सीता समाहित स्थल, प्रयाग, श्रृंगवेरपुर व चित्रकूट की यात्रा करेंगे। इस दौरान काशी प्रयाग व चित्रकूट में रात्रि विश्राम होगा।,
चित्रकूट, किष्किंधा पर्वत से कामाक्षी मंदिर 
      चित्रकूट से चलकर यह ट्रेन नासिक पहुंचेगी जहां पंचवटी व त्रयंबकेश्वर मंदिर का भ्रमण कर सकेंगे। नासिक के बाद किष्किंधा नगरी हंपी से अंजनी पर्वत पर हनुमान जन्म स्थल व अन्य महत्वपूर्ण धार्मिक व विरासत मंदिरों के दर्शन करवाए जाएंगे। हम्पी के बाद रामेश्वरम के प्राचीन शिव मंदिर व धनुषकोडी की यात्रा होगी। रामेश्वरम से यह ट्रेन कांचीपुरम पहुंचेगी जहां शिव कांची, विष्णु कांची और कामाक्षी माता मंदिर का भ्रमण होगा। ट्रेन का अंतिम पड़ाव तेलंगाना के भद्राचलम में होगा जिसे दक्षिण की अयोध्या के नाम से भी जाना जाता है। यह ट्रेन 18 वें दिन दिल्ली वापस पहुंचेगी। इस दौरान ट्रेन द्वारा लगभग 8000 किलोमीटर की यात्रा पूरी की जाएगी। 
भुगतान के लिए आसान किश्तों का है विकल्प 
       पूरी ट्रेन थर्ड एसी कोच वाली होगी जिसमें आधुनिक किचन से यात्रियों को उनकी बर्थ पर ही शाकाहारी स्वादिष्ट भोजन परोसा जाएगा। ट्रेन में यात्रियों के मनोरंजन व यात्रा की जानकारी देने के लिए इन्फोटेन्मेंट सिस्टम लगे होंगे। स्वच्छ शौचालय, सुरक्षा गार्ड, सीसीटीवी कैमरे हर कोच में लगे होंगे। इस यात्रा के लिए सभी शुल्क सहित मुसाफिरों को 62370 रुपए अदा करने होंगे। सरकारी, पीएसयू कर्मचारी यात्रा पर वित्त मंत्रालय के दिशानिर्देशों के अनुसार एलटीसी सुविधा का लाभ भी उठा सकते हैं। इस टूर की राशि का भुगतान यात्री आसान किश्तों में भी कर सकेंगे। 
 

comments

.
.
.
.
.