Sunday, Jan 23, 2022
-->
uttar pradesh yogi adityanath dussehra sobhnt

दशहरा के अवसर पर UP के सीएम योगी आदित्यनाथ ने किया कन्या पूजन

  • Updated on 10/25/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। उत्तर प्रदेश (Uttar pradesh) के मुख्यमंत्री और गोरक्ष पीठ के महंत योगी आदित्यनाथ (Yogi adityanath) ने रविवार को नवरात्र के अंतिम दिन पारंपरिक कन्या पूजन किया और इसे सतानत धर्म में मातृशक्ति का सम्मान करने वाली परंपरा का प्रतीक बताया।     

पुलिस पर भीड़ का हमला, एक सिपाही को पीटकर राइफल छीनी

पैर धोए और पूजन किया
कन्या पूजन के बाद मुख्यमंत्री ने राज्य के लोगों की सुख-समद्धि की कामना की और कहा कि कन्या पूजन सनातन धर्म की मातृशक्ति का सम्मान करने की परंपरा का प्रतीक है। इससे बेटियों में सनातन धर्म की आस्था का पता चलता है। रविवार की सुबह योगी आदित्यनाथ ने एक वर्ष से 5 वर्ष तक की कन्याओं को आमंत्रित किया और उनके पैर धोने के बाद उनका पूजन किया तथा उन्हें प्रसाद खिलाया।     

मन की बात में बोले पीएम मोदी, इस दशहरा सैनिकों के लिए जलाएं एक दीया 

कोविड के प्रोटोकॉल की आवश्यकता
कन्या पूजन के बाद बाद योगी ने अपने गुरु ब्रह्मलीन महंत अवैद्यनाथ की प्रतिमा स्थली पर जाकर उनका आशीर्वाद लिया और फिर गौशाला में गायों को भोजन खिलाया। इस मौके पर मुख्यमंत्री ने कहा कि त्यौहार उत्साह और खुशी लाता है, लेकिन हमें कोरोना महामारी के कारण सावधान रहने और कोविड-19 के प्रोटोकॉल का पालन करने की आवश्यकता है। योगी ने मास्क पहने और एक दूसरे से मेल जोल में सुरक्षित दूरी अपनाने पर जोर दिया।     

Bihar Election 2020: चिराग पासवान ने जनता से की बीजेपी को वोट देने की अपील

कलश स्थापित किया
नाथ संप्रदाय की परंपरा के अनुसार शाम को महंत योगी आदित्यनाथ भव्य ‘शोभा यात्रा’ का नेतृत्व करेंगे। इसके पहले शनिवार को गोरखनाथ मंदिर में मुख्यमंत्री ने महानिशा और महागौरी पूजा की थी। नवरात्र के पहले दिन गोरखनाथ मंदिर के शक्तिपीठ में उन्होंने कलश स्थापित किया था।   

 

 

यहां पढ़ें अन्य महत्वपूर्ण खबरें-

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.