Sunday, Sep 26, 2021
-->
uttar pradesh yogi government lucknow city politics news sobhnt

सपा सरकार में चपरासी-चौकीदारों को बनाया अधिकारी, योगी ने फिर भेजा मूल पद पर वापस

  • Updated on 1/11/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। उत्तरप्रदेश (Uttar pradesh) में योगी सरकार (Yogi Government) ने एक ऐसे घोटाले को पकड़ा है। जिसमें कभी चपरासी और चौकीदार के पद पर काम करने वाले कर्मचारी अधिकारी बन बैठे और अब सरकार ने कार्यवाही करते हुए उन अधिकारियों को उन्हीं विभागों फिर से चपरासी और चौकीदार बना दिया गया है। इस घटना के बाद अखिलेश सरकार में मची अंधेरगर्दी सामने आ गई है। बताया जा रहा है कि अखिलेश यादव के राज में ऐसा हुआ था।  

चपरासी और चौकीदार को बनया अधिकारी
बता दें कि उत्तरप्रदेश के सूचना एवं जनसंपर्क विभाग में कई जगह ऐसे मामले सामने आए हैं। जहां चपरासी और चौकीदारों को विभाग का अधिकारी  बना दिया था। बरेली के सूचना कार्यालय में चपरासी के रुप में सेवारत नरसिंह, फीरोजाबाद में चौकीदार के पद पर कार्यरत दयाशंकर और मथुरा में सिनेमा ऑपरेटर कम प्रचारक विनोद कुमार शर्मा को भी अपर जिला सूचना अधिकारी बनाया गया था। जिन्हें अब योगी सरकार ने वापस से चौकीदार और चपरासी बना दिया  है। 

टीकाकरण के अभियान से पहले आज मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक करेंगे PM Modi

मामला पूरी तरह से गैर-कानूनी
बता दें इस गड़बड़ का मामला इलाहबाद हाईकोर्ट पहुंचा तो कोर्ट ने इसमें कार्यवाही करते हुए कहा है कि सपा शासनकाल में हुई यह पदोन्नतियां नियम विरुद्ध थी। वह कहते हैं कि यह क्योंकि यह पद सीधे ही भरे जा सकते हैं इसलिए यह  मामला पूरी तरह से गैर कानूना है। जिसके बाद कोर्ट ने इन्हें इनके पुराने पद पर वापस भेज दिया है। यह इनमें से कई वापस चपरासी और चौकीदार बन गए हैं।  

नस्लवाद मामला: भारत ने जाहिर की कड़ी प्रतिक्रिया, ICC ने मांगी रिपोर्ट

कोर्ट ने मामले को गंभीरता से लिया
इस पूरे मामले पर सूचना निदेशक ने कहा है कि कोर्ट के आदेश के बाद मामले को गंभीरता से लिया गया है। और इस तरह के सभी कर्मचारियों को उनके मूल पद पर वापस भेज दिया गया है। अब ऐसे अधिकारी अपने मूल पद पर काम कर रहे हैं। सोचिए अब ऐसा करने वालों की हालत कितनी खराब हो रही होगी। जो कभी जिस ऑफिस में अधिकारी बने बैठे थे आज वह उसी ऑफिस में चौकीदार और चपरासी बन गए हैं।  

Bird Flu: दिल्ली में बर्ड फ्लू की दस्तक, 8 सैंपल मिले पॉजिटिव, जानें देश का हाल

कई लोगों को उठाया
गौरतलब है कि सपा सरकार में ऐसे आरोप लगते रहे हैं कि अखिलेश  के राज में पैसे लेकर या सोर्स के माध्यम से तरक्की मिल रही है। उस समय भी ऐसे कई मामले सामने आए थे। कहा जाता था कि उस समय एक जाति विशेष को अखिलेश सरकार में काफी ज्यादा फायदा मिला था। काफी लोगों को आगे बढ़ाया गया था। कई छोटे पदों पर बैठे लोग तेजी से बढ़े पदों तक पहुंच गए थे।    

 

यहां पढ़ें अन्य बड़ी खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.