Monday, Aug 15, 2022
-->
virk''''s condition is now out of danger, farmers protest will continue till the demands not met

विर्क की हालत अब खतरे से बाहर, किसानों ने कहा जब तक मांगें पूरी नहीं होती जारी रहेगा विरोध

  • Updated on 10/5/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल।  लखीमपुर खीरी कांड में घायल हुए संयुक्त किसान मोर्चा नेता तजिंदर विर्क को गुरुग्राम स्थित एक अस्पताल में स्थानांतरित कर दिया गया है और यहां उनकी सर्जरी के बाद डॉक्टरों ने उन्हें अब खतरे से बाहर बताया है। दूसरी तरफ वीडियो सामने आने के बाद  किसान नेताओं ने विरोध प्रदर्शन कर दोहराया है कि जब तक उनकी मांगें पूरी नहीं हो जाती विरोध प्रदर्शन जारी रहेगा। 
         संयुक्त किसान मोर्चा ने कहा कि शांतिपूर्ण किसानों की निर्मम हत्या का चौंकाने वाला और दिल दहलानेवाला नया वीडियो सबूत सामने आया है जो बताता है कि प्रदर्शनकारी उस दिन का जो भीषण घटनाक्रम  बता रहे हैं, वह वीडियो में दिख रहा है। जब तक हमारी मांगों को पूरा नहीं किया जाता, तब तक आंदोलन समाप्त नहीं किया जाएगा और इसके लिए जल्द ही नई कार्ययोजना की घोषणा की जाएगी। एसकेएम ने उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा एसकेएम नेता गुरनाम सिंह चढूनी की कल शाम से कई घंटों तक गिरफ्तारी और हिरासत की निंदा की। 
          वहीं किसानों ने नई दिल्ली में यूपी भवन के बाहर आयोजित एक विरोध प्रदर्शन के बाद मंदिर मार्ग पुलिस स्टेशन में दिल्ली पुलिस कई प्रदर्शनकारियों को उठाकर ले गई तथा कई घंटों तक उन्हें हिरासत में रखा। संयुक्त किसान मोर्चा ने कहा कि प्रधानमंत्री को उनके अपने असंगत रुख और यू-टर्न की याद दिलाना चाहता है। वास्तव में जब एमएसपी को सभी उपज और किसानों के लिए वास्तविकता बनाने की बात आती है तो मोदी सरकार संसद के पटल पर किए गए अपने वायदे से मुकर गई। समय आ गया है कि भाजपा किसानों से वायदे करने और उनसे मुकरने की अपनी राजनीतिक बेईमानी पर गौर करे। भाजपा किसानों से वायदे करने और उनसे मुकरने की अपनी राजनीतिक बेईमानी छोड़े। 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.