Friday, Jun 25, 2021
-->
woman got corona vaccine two time kanpur anjsnt

Vaccination के दौरान हुई बड़ी लापरवाही! महिला को दो बार लगा दिया कोरोना का टीका

  • Updated on 4/3/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल।  देश में कोरोना वायरस एक बार फिर से अपना कहर बरपा रहा है। ऐसे में इस महामारी की रोकथाम के लिए देश में वैक्सीनेशन प्रकिया काफी जोर- शोर से चल रही है लेकिन वैस्कीनेशन के दौरान हुई लापरवाही की एक तस्वीर जो सामने आई है वो काफी हैरान कर देने वाली है।जहां एक तरफ सरकार सभी देशवासियों से सतर्कता बरतने को कह रही है तो वहीं उत्तर प्रदेश के एक प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर मोबाइल से बात करने के चक्कर में एक महिला को एक ही समय में दो बार कोविड का टीका लगा दिया गया है।

हार्ट ब्लॉकेज की समस्या से जूझ रहे सचिन वाझे, NIA कोर्ट ने मांगी मेडिकल रिपोर्ट

क्या है पूरा मामला
ये मामला कानपुर के एक देहात जिले  मंडोली का है।यहां पर पीएचसी में तैनात अर्चना को स्वास्थ्य केंद्र में वैक्सीन लगवाने की जिम्मेदारी दी गई थी लेकिन उसने फोन पर बात करने के चक्कर में गांव की एक महिला जिसका नाम कमलेश है उसे दो बार वैक्सीन लगा दी।  दो बार वैक्सीन लगने के कारण उसके हाथ में सूजन भी  आ गई है और उसे दर्द भी हो रहा है। ऐसे में जब उस महिला ने अर्चना से पूछा कि उसे दो बार टीका क्यों लगा है तो अर्चना ने उसे कह दिया कि वो गलती से लग गया। इतना ही नहीं उसने पीड़ित को फटकार भी लगाई है।

J-K: डॉक्टर की सलाह के बाद अस्पातल में भर्ती हुए फारुक अब्दुल्ला, कोरोना से हैं संक्रमित

CMO ने झाड़ा पल्ला
वैक्सीनेशन के दौरान हुई इस लापरवाही को लेकर जब एक मीडिया हाउस ने वहां से स्वास्थ्य अधिकारी से बात की तो उसने फोन पर तो बात कर ली लेकिन जब उससे कहा गया कि ऑन कैमरा बात करें तो उसने मना कर दिया। वहीं प्राशनन ने भी इस मामले पर चुप्पी साध रखी है।

देश में कोरोना का कहर
देश में कोरोना संक्रमण अब भयानक रूप लेने लगा है। बीते 24 घंटे में 89,019 नए मरीज मिले हैं, वहीं सिर्फ 44,176 संक्रमित ठीक हुए हैं, जबकि इस महामारी से 713 लोगों की मौत हुई है। केंद्र ने शुक्रवार को कहा कि कोविड-19 के रोजाना के मामलों में वृद्धि के कारण चिंताजनक स्थिति वाले 11 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों ने रोकथाम गतिविधियों को लागू करने में तेजी नहीं दिखाई है। सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के मुख्य सचिवों, पुलिस महानिदेशकों और स्वास्थ्य सचिवों के साथ उच्च स्तरीय समीक्षा बैठक की अध्यक्षता के बाद कैबिनेट सचिव राजीव गौबा ने इन राज्यों को संक्रमण रोकने के लिए कड़े कदम उठाने को कहा। 

तमिलनाडु में आज अमित शाह करेंगे रोड शो, जनसभा को भी करेंगे संबोधित

इन राज्यों में बढ़े मामले
स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक चिंताजनक स्थिति वाले 11 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों में महाराष्ट्र, पंजाब, कर्नाटक, केरल, छत्तीसगढ़, चंडीगढ़, गुजरात, मध्य प्रदेश, तमिलनाडु, दिल्ली और हरियाणा हैं। मंत्रालय ने कहा कि 31 मार्च तक 14 दिनों में कोविड-19 के मामलों में इन राज्यों का योगदान 90 प्रतिशत, मौत के मामले में 90.5 प्रतिशत है और कई राज्य पिछले साल के शीर्ष मामलों को पार कर चुके हैं या उसके करीब हैं। बैठक में राज्यों द्वारा तुरंत अनुपालन के लिए नियमों का उल्लंघन करने वालों पर पुलिस कानून, आपदा प्रबंधन कानून और अन्य कानूनी और प्रशासनिक प्रावधानों के तहत जुर्माना लगाने की जरूरत पर विचार-विमर्श हुआ।


 

comments

.
.
.
.
.