Friday, Sep 25, 2020

Live Updates: Unlock 4- Day 25

Last Updated: Fri Sep 25 2020 08:59 AM

corona virus

Total Cases

5,816,103

Recovered

4,752,991

Deaths

92,371

  • INDIA7,843,243
  • MAHARASTRA1,282,963
  • ANDHRA PRADESH654,385
  • TAMIL NADU563,691
  • KARNATAKA548,557
  • UTTAR PRADESH374,277
  • ARUNACHAL PRADESH325,396
  • NEW DELHI260,623
  • WEST BENGAL237,869
  • ODISHA196,888
  • BIHAR180,788
  • TELANGANA179,246
  • ASSAM165,582
  • KERALA154,458
  • GUJARAT128,949
  • RAJASTHAN122,720
  • HARYANA118,554
  • MADHYA PRADESH113,057
  • PUNJAB103,464
  • CHHATTISGARH93,351
  • JHARKHAND75,089
  • CHANDIGARH70,777
  • JAMMU & KASHMIR67,510
  • UTTARAKHAND43,720
  • GOA29,879
  • PUDUCHERRY24,227
  • TRIPURA23,786
  • HIMACHAL PRADESH13,049
  • MANIPUR9,376
  • NAGALAND5,671
  • MEGHALAYA4,961
  • LADAKH3,933
  • ANDAMAN AND NICOBAR ISLANDS3,712
  • DADRA AND NAGAR HAVELI2,965
  • SIKKIM2,548
  • MIZORAM1,713
  • DAMAN AND DIU1,381
Central Helpline Number for CoronaVirus:+91-11-23978046 | Helpline Email Id: ncov2019 @gov.in, ncov219 @gmail.com
yogi government yogi adityanath triple talaq  women suffering from triple talaq

तीन तलाक से पीड़ित महिलाओं के हक में CM योगी का बड़ा फैसला, पेश की ये बड़ी योजना

  • Updated on 9/25/2019

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने तीन तलाक (Triple talaq) से पीड़ित महिलाओं से बात कर उनकी आर्थिक मदद के लिए एक बड़ी योजना का ऐलान कर दिया। उनकी इस योजना के अनुसार पीड़ित महिलाओं को हर साल 6000 रूपये की मदद दी जाएगी। साथ ही उन्होंने इस बात का भी आश्वासन दिया की सरकार आर्थिक रूप से कमजोर और तीन तलाक से पीड़ित माहिलाओं की हर संभव मदद करेगी।

UN मुख्यालय में हुआ 'गांधी सोलर पार्क' का उद्घाटन, कई देश के नेताओं ने दी श्रद्धांजलि

आपको बता दें की मोदी सरकार द्वारा देश में तीन तलाक कानून के नियमों को शख्त करने के बाद से ये पहला अवसर है, जब मुख्यमंत्री ने पीड़ित महिलाओं से बात कर उनके हित में एक बड़ी योजना का ऐलान किया है।

जानिए क्या है UNGA, अनुच्छेद 370 के खात्मे के बाद PM मोदी- इमरान खान होंगे आमने-सामने

प्रदेश के मुख्यमंत्री ने सबका साथ सबका विकास के नारे को और मजबूती देते हुए कहा, समाज का कोई भी वर्ग या कोई आम जन मानस खुद को सोशित व पीड़ित महसूस न करे, हम इसके लिए ठोस कदम उठाने को तैयार हैं। उन्होंने कहा ये असमानता और भेद-भाव की राजनीति कब की खत्म हो गई होती, लेकिन पीछली सरकारों ने इसे सिर्फ अपने राजनीतिक हित में प्रयोग किया।

फोर्ब्स की लिस्ट में भारतीय कंपनी इन्फोसिस को मिला तीसरा स्थान

योगी ने कहा किसी भी मामले पर लापरवाही बरतने वाले पुलिसकर्मी भी नपेंगे।
बीते साल उत्तर प्रदेश में तीन तलाक के 273 मामले सामने आए थे। जिनको संज्ञान में लेते हुए योगी आदित्यनाथ ने प्रमुख सचिव को बुलाकर उनसे खुद समीक्षा करने और लपरवाह पुलिसकर्मियों पर कर्रवाही करने की बात कही। सीएम योगी ने महिलाओं को समाज का सबसे अहम हिस्सा बताते हुए कहा हमें पुरूष प्रधान सोच को खत्म करना होगा। उन्होंने कहा, समाज के हर वर्ग को पूरे हक और सम्मान के साथ जीने का अधिकार है।

आधार कार्ड के बाद अब यूनीक कार्ड, धड़ल्ले से फैसले ले रही सरकार को करना होगा सोच विचार

प्रदेश के मुख्यमंत्री की ये योजना तब तक सुचारू रूप से चलती रहेगी जब तक पीड़ित महिलाओं को न्याय नहीं मिल जाता। योगी ने तीन तलाक जैसी कुप्रथा को खत्म करने के लिए प्रधानमंत्री का धन्यवाद व्यक्त करते हुए कहा, प्रधानमंत्री ने कई अर्से से चली आ रही इस कुप्रथा को समाप्त कर पीड़ित महिलाओं को समाज में बराबरी का हक दिलाया है। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.