Friday, May 07, 2021
-->

'आप' विधायको ने एमसीडी को घेरा

  • Updated on 10/1/2016

Navodayatimesनई दिल्ली (ब्यूरो)। दिल्ली विधानसभा के विशेष सत्र में शुक्रवार को आम आदमी पार्टी (आप) के विधायकों ने डेंगू, चिकनगुनिया व मलेरिया के लिए तीनों एमसीडी को निशाने पर लिया। इस संदर्भ में सीमापुरी से विधायक राजेंद्र पाल गौतम ने कहा कि नगर निगम पूरी तरह नाकारा हो गया है। मलेरिया का अलग विभाग होने के बावजूद काम सही ढंग से नहीं हो रहा है। अगर, सितम्बर में होने वाले बचाव कार्य जुलाई में हो जाते, तो मच्छरजनित बीमारियों का इतना प्रकोप नहीं होता।

छोटेपुर ने AAP से दिया इस्तीफा, आज बनाएंगे नई पार्टी

पालम से विधायक भावना गौड़ ने कहा कि श्रीलंका जैसा छोटा देश मलेरिया से मुक्त हो सकता है, तो अपना देश ऐसी बीमारियों पर अंकुश क्यों नहीं लगा पा रहा है? लक्ष्मीनगर से विधायक नितिन त्यागी ने कहा कि मेरे कहने पर दवा छिड़कने वाले निगमकर्मी को भाजपा नेता पीट रहे हैं। शकरपुर थाने में मामला भी दर्ज है। निगम के नेता अपने दायित्व को नहीं निभा रहे हैं।

पढ़ें, आखिर क्यों उपराज्यपाल के शरण में पहुंचे CM केजरीवाल और की ये गुजारिश

मुस्तफाबाद में जहरीला पानी पी रहे लोग : जगदीश प्रधान

मुस्तफाबाद से भाजपा विधायक जगदीश प्रधान ने सदन में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को बताया कि उनके क्षेत्र में दूषित पानी की वजह से लोग कैंसर का शिकार हो रहे हैं। उनके इलाके में जींस की तमाम फैक्ट्रियां हैं, जहां पर काफी मात्रा में तेजाब का इस्तेमाल होता है। फैक्ट्रियों का गंदा पानी जमीन में जा रहा है। स्वच्छ पानी उपलब्ध नहीं होने की वजह से स्थानीय लोग हैंडपंप का जहरीला पानी पीने को मजबूर हैं। इससे लोग बीमार हो रहे हैं। सीएम ने उनकी बातों को गौर से सुना।

सुप्रीम कोर्ट ने केजरीवाल सरकार को लगाई फटकार, कहा खुली अदालत में नाम बताएं

‘मच्छरजनित बीमारियों पर गंभीर नहीं सरकार’ 

सदन में नेता विपक्ष विजेंद्र गुप्ता ने कहा कि दिल्ली सरकार मच्छरजनित बीमारियों को थामने में गंभीर नहीं है। आपात स्थिति में मंत्री दिल्ली छोड़कर गायब थे। गोवा से लौटकर स्वास्थ्य मंत्री ने गैर-जिम्मेदाराना बयान दिया कि चिकनगुनिया से मौत नहीं हो सकती है। केवल, नगर निगमों की लापरवाही बताकर आरोप-प्रत्यारोप करने से कुछ नहीं होगा। निगमों को वित्तीय तौर पर कमजोर करने का प्रयास किया गया। दिल्ली के मंत्री जिम्मेदारी नहीं संभाल पा रहे हैं, तो इस्तीफा दें । केंद्र सरकार ने मच्छरजनित बीमारियों पर अब तक 12 एडवाइजरी और 21 रिव्यू मीटिंंग की है।

 केजरीवाल ने फोगिंग अभियान की शुरुआत की, सभी पार्टियों से की अपील

सरकार ने समय रहते किए इंतजाम : सत्येंद्र जैन

स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने सदन में बताया कि 31 अगस्त तक के काम की फाइल उनके पास है। मार्च में तैयारियां शुरू हो गई थीं। एक्ट के मुताबिक एमसीडी का काम सफाई, फॉगिंग व दवा का छिड़काव है। दिल्ली सरकार स्वास्थ्य सेवाओं पर काम करती है। हमने अपना काम बेहतरीन तरह से किया। सभी अस्पतालों को निर्देश दिए गए कि जरूरतमंद मरीजों को भर्ती किया जाए।

केजरीवाल की फिर बढ़ी मुसीबत,27 और विधायकों की सदस्यता खतरे में-जानिए कैसे

निजी अस्पताल अपोलो में भी इंतजाम किया गया। आज की तारीख में भी दिल्ली सरकार के अस्पतालों में 1000 बेड खाली हैं। भारत सरकार के स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा ने हमारे अनुरोध को स्वीकार कर केंद्रीय अस्पतालों में अतिरिक्त बेड का इंतजाम कराया। जैन ने कहा कि अगर एमसीडी सही से काम करती, तो इन बीमारियों को रोका जा सकता था।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.