Sunday, Oct 17, 2021
-->
As soon as he joined the BJP, the grandson of Zail Singh took out anger on the Congress

BJP में शामिल होते ही जैल सिंह के पोते ने कांग्रेस पर निकाली भडास, कहा-दादा की करवाई गई हत्या

  • Updated on 9/13/2021

-भाजपा जो जिम्मेदारी देगी उसे पूरा करने का प्रयास करेंगे : इंदरजीत
-केंद्रीय मंत्री हरदीप पुरी की मौजूदगी में इंदरजीत सिंह ने थामा भाजपा का दामन

 नई दिल्ली /नेशनल ब्यूरो : देश के सातवें राष्ट्रपति ज्ञानी जैल ङ्क्षसह के पौत्र इंदरजीत ङ्क्षसह सोमवार को भाजपाई हो गए। केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी की मौजूदगी में इंदरजीत सिंह ने भाजपा का दामन थामा। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय मुख्यालय में आयोजित कार्यक्रम के दौरान हरदीप पुरी ने इंदरजीत को भगवा पटका पहनाकर उनकी विधिवत ज्वाइनिंग कराई। इस मौके पर भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव एवं पंजाब के प्रभारी दुष्यंत गौतम, राष्ट्रीय मीडिया प्रमुख अनिल बलूनी, राष्ट्रीय प्रवक्ता सरदार आरपी सिंह भी मौजूद रहे।
भाजपाई होते ही इंद्रजीत सिंह कांग्रेस पर जमकर भड़ास निकाली। साथ आरोप लगाया कि उनके दादा जी का जानबूझ कर एक्सीडेंट करवा कर उनकी हत्या कराई गई थी। उन्होंने पूरे घटनाक्रम पर ही सवाल उठाए। साथ ही कहा कि उनकी गाड़ी के आगे और पीछे जब पुलिस की गाड़ी चल रही थी तब बीच में कैसे कोई गाड़ी घुस कर एक्सीडेंट कर दी। लिहाजा, यह पूरा मामला ही संदिग्ध रहा है। इसके अलावा ज्ञानी जैल सिंह का प्रापर इलाजा नहीं करवाया गया। उन्होंने कहा कि उनके स्वर्गीय दादा जी की मनोकामना वर्षों बाद पूरी हुई है। कांग्रेस ने उनकी वफादारी के बावजूद जैसा सलूक किया, उससे उनका दिल दुखा था। उन्होंने कहा, 'मेरे दादा जी चाहते थे कि मैं भाजपा में जाऊं। उन्होंने मुझे अटल बिहारी वाजपेयी और लालकृष्ण आडवाणी के पास आशीर्वाद लेने भेजा था।  जिस तरीके से कांग्रेस ने उनके साथ सलूक किया, उनका दिल दुखाया, उनकी वफादारी का क्या सिला दिया...आप सब जानते हैं। उन्होंने कहा कि पार्टी उन्हें जो भी जिम्मेदारी वह उसे पूरा करने का भरपूर प्रयास करेंगे।
   इस मौके पर केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने पंजाब के मुख्यमंत्री अमङ्क्षरदर ङ्क्षसह और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष नवजोत ङ्क्षसह सिद्धू के बीच सत्ता को लेकर चल रही खींचतान का उल्लेख करते हुए कांग्रेस पर निशाना साधा और आरोप लगाया कि वहां की सरकार केंद्र सरकार की कई महत्वपूर्ण योजनाओं को लागू नहीं कर रही है। उन्होंने कहा, आवास योजना हो या आयुष्मान योजना, मुझे समझ नहीं आता कि राज्य सरकार इन्हें क्यों लागू नहीं कर रही है। इंदरजीत ङ्क्षसह का भाजपा में स्वागत करते हुए पुरी ने कहा कि जब उन्हें पता चला कि वह भाजपा में शामिल हो रहे हैं तो उन्हें बहुत खुशी हुई। पंजाब में अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं। शिरोमणि अकाली दल का भाजपा से गठबंधन टूटने के बाद इस बार वहां चतुष्कोणीय मुकाबले के आसार बन रहे हैं। भाजपा इस बार अकेले चुनाव मैदान में उतरेगी जबकि सत्ताधारी कांग्रेस को चुनौती देने के लिए शिरोमणि अकाली दल ने बहुजन समाज पार्टी के साथ गठबंधन किया है। आम आदमी पार्टी भी राज्य में मजबूती से अपनी जड़ें जमा रही है।
 बता दें कि फरवरी-मार्च में पंजाब सहित पांच राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले सभी राजनीतिक पार्टियां अपने आप को मजबूत करने की पूरी कोशिश कर रही हैं। इसमें दूसरी पार्टी के बड़े चेहरों, जानी-पहचानी हस्तियों को अपनी तरफ मिलाने की कोशिशें भी जारी हैं। इससे पहले पंजाब से कई नेताओं को भाजपा में शामिल कराया जा चुका है।

comments

.
.
.
.
.