Thursday, Aug 11, 2022
-->
if-there-was-no-permission-then-what-were-the-policemen-doing-for-security-in-the-procession

अगर इजाजत नहीं थी तो शोभायात्रा में सुरक्षा के लिए पुलिसकर्मी क्या कर रहे थे: विनोद बंसल

  • Updated on 4/18/2022

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। जहांगीरपुरी में हनुमान जन्मोत्सव की शोभायात्रा के दौरान हुई हिंसा मामले में पुलिस द्वारा वीएचपी और बजरंग दल के पदाधिकारी के खिलाफ केस दर्ज करने पर विश्व हिंदू परिषद ने कड़ी निंदा की है। वीएचपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता विनोद बंसल ने दो टूक कहा कि अगर शोभा यात्रा की इजाजत नहीं थी तो फिर पुलिस कर्मचारी सुरक्षा के लिए शोभा यात्रा के साथ क्या करने के लिए जुटे थे। उन्होंने पुलिस को इस बयान के लिए आड़े हाथ लेते हुए कहा कि अब तक जिहादियों को पुलिस का संरक्षण मिलने की बात सामने आती थी, लेकिन अब जिहादियों ने पुलिस रिकार्ड में भी सेंधमारी शुरु कर दी है। 

फिर से फ्लॉप होने के कगार पर डीडीए आवासीय योजना:70 फीसदी फ्लैट्स बिना बिके रहे 

विनोद बंसल ने एक सवाल के जवाब में कहा कि वीएचपी अथवा बजरंग दल कोई भी अनैतिक, अवैध कार्य नहीं करता है। उन्होंने दावा किया कि शोभा यात्रा के लिए तीन दिन पहले ही पुलिस से मंजूरी ली गई थी। उन्होंने कहा कि उसका रिकार्ड पुलिस के पास यदि नहीं है तो पुलिस आयुक्त संबंधित पुलिस अधिकारी को तलब करें और जरूरत होने पर उस अधिकारी के विरुद्ध कार्रवाई करें, क्योंकि पुलिस से ली गई अनुमति की कॉपी वीएचपी अथवा बजरंग दल के पास अवश्य है। जिसे समय आने पर सबके साथ साझा किया जाएगा। 

केजरीवाल व महाराष्ट्र सरकार पर भी निशाना साधा 

उन्होंने दिल्ली सरकार और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल व महाराष्ट्र सरकार पर भी निशाना साधा। बंसल ने कहा कि दूसरे राज्यों से कब सीखेंगे केजरीवाल? दिल्ली को दहलाने वालों को कब तक पालते रहेंगे? कब चलेगा 'भाई जान का बुलडोजर? उन्होंने महाराष्ट्र सरकार के आदेश पर कहा कि मस्जिद के पास सिर्फ निजामे मुस्तफा!! आरती या हनुमान चालीसा उसके आसपास भी नहीं फटक सकती। उन्होंने ट्वीट किया कि सर्वोच्च न्यायालय ने तो यह नहीं कहा था। उन्होंने कहा कि वाह री सोनिया-सेना सरकार! जो औरंगजेब भी नहीं कर पाया, ठाकरे ने कर दिखाया!

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.