Friday, Feb 28, 2020
india practice match against new zealand xi

Ind v NZ Test: न्यूजीलैंड XI के खिलाफ भारत का 3 दिवसीय अभ्यास मैच आज से

  • Updated on 2/14/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। विश्व की नंबर एक टैस्ट टीम भारत ने बेशक अपने पिछले लगातार 7 टैस्ट शानदार अंदाज में बड़े अंतर से जीते हैं लेकिन शुक्रवार से न्यूजीलैंड (New Zealand) एकादश के खिलाफ होने वाले 3 दिवसीय अभ्यास मैच में वह कुछ सवालों का जवाब ढूंढने के इरादे से उतरेगी।

भारत ने इस दौरे में जब टी-20 सीरीज 5-0 से जीतकर इतिहास बनाया था तब उसके सामने किसी भी तरह की अगर-मगर की स्थिति नहीं थी लेकिन 3 मैचों की वनडे सीरीज में 0-3 की क्लीन स्वीप (Clean Sweep) ने उसके सामने सवाल खड़े कर दिए हैं और इस अभ्यास मैच (Practice Match) में उन्हें कुछ सवालों के जवाब तलाशने होंगे।

ICC ने रिपोर्ट जारी कर दी जानकारी, दुनिया भर में क्रिकेट मैच की संख्या बढ़ी

भारत (India) ने अपने पिछले 7 टैस्ट पारी या 200 रन से अधिक के अंतर से जीते हैं और 21 फरवरी से होने वाली 2 टैस्टों की सीरीज में वह जीत के प्रबल दावेदार के रूप में उतरेगा लेकिन उसे मेजबान टीम के पलटवार से सतर्क रहना होगा जिसने भारत के खिलाफ वनडे सीरीज में पहली बार 3-0 की क्लीन स्वीप कर अपना मनोबल मजबूत कर लिया है। कुछ प्रमुख खिलाडिय़ों की चोटों और खराब फॉर्म ने टीम इंडिया (Team India) के सामने संकट पैदा कर दिया है।

ओपनर रोहित शर्मा के चोटिल होकर इस दौरे से बाहर हो जाने के बाद भारत को फिलहाल ओपङ्क्षनग की समस्या से जूझना है। मयंक अग्रवाल (Mayank Aggarwal) और रोहित ने जब से एक साथ ओपनिंग शुरू की थी तब से किसी और ने भारत के लिए टैस्ट मैचों में उनसे ज्यादा रन नहीं बनाए हैं। इस दौरान दोनों का औसत 90 के आसपास रहा है। कीवी परिस्थितियां दोनों की परीक्षा लेतीं लेकिन रोहित पिंडली की चोट के कारण बाहर हो चुके हैं।

शीर्ष तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह की फॉर्म भारत की बड़ी चिंता
ईशांत शर्मा (Ishant Sharma) चोटिल है और उनका 15 फरवरी को फिटनैस टैस्ट होना है और बेंगलूर स्थित राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी में फिटनैस टैस्ट पास करने के बाद ही वह पहले टैस्ट में खेल पाएंगे। यदि उनकी टखने की चोट पूरी तरह ठीक नहीं होती है तो वह एक या दोनों टैस्टों से बाहर रहेंगे। भारत की इस समय सबसे बड़ी चिंता उसके शीर्ष तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह की फॉर्म है जो अपने करियर में पहली बार किसी वनडे सीरीज (ODI Series) में कोई विकेट हासिल नहीं कर पाए। यह उनका भारत के 2019 में अगस्त-सितम्बर में वैस्ट इंडीज दौरे में दूसरे टैस्ट के बाद पहला टैस्ट होगा।

विश्व कबड्डी चैम्पियनशिप के लिए बिना मंजूरी भारतीय टीम पहुंची पाकिस्तान

उस सीरीज में उनका प्रदर्शन जबरदस्त रहा था और उन्होंने 9.23 के शानदार औसत से 13 विकेट लिए थे जिसमें हैट्रिक शामिल थी। उसके बाद उन्हें पीठ की चोट के कारण मैदान से बाहर होना पड़ा था और मैदान में लौटने के बाद उनकी वापसी सुखद नहीं रही है। बुमराह (Bumrah) न्यूजीलैंड के खिलाफ तीन मैचों की सीरीज में कोई भी विकेट हासिल नहीं कर पाए। पिछले 6 मैचों में वह 5 मैचों में विकेट लेने के लिहाज से खाली हाथ रहे हैं।

पृथ्वी टैस्ट टीम में वापसी के लिए तैयार
युवा ओपनर पृथ्वी शॉ भारत के लिए 2 टैस्ट खेल चुके हैं और अपने पदार्पण टैस्ट में शतक भी जमा चुके हैं। इसके बाद उन्हें चोट और डोपिंग के लिए निलंबन से जूझना पड़ा लेकिन अब वह टैस्ट टीम में वापसी के लिए तैयार है। उन्हें टैस्ट टीम में जगह बनाने के लिए एक और युवा बल्लेबाज (Batsman) शुभमन गिल से चुनौती मिल सकती है जिन्होंने भारत ए के लिए पिछले 2 गैर-आधिकारिक टैस्टों में 83, नाबाद 204 और 136 जैसे शानदार स्कोर बनाए हैं। गिल को अभी अपने टैस्ट करियर की शुरूआत करनी है। अभ्यास मैच में पृथ्वी और गिल का प्रदर्शन यह फैसला करेगा कि इनमें से कौन बल्लेबाज वेलिंगटन में पहले टैस्ट में मयंक का जोड़ीदार बनेगा।

comments

.
.
.
.
.