Sunday, Oct 17, 2021
-->
ipl 2020 mahendra singh dhoni cricket sports sobhnt

मैने छोटी-छोटी चीजों को सही किया, उम्मीद है कि लय कायम रहेगी : धोनी

  • Updated on 10/5/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। पिछले मैचों में हार के दौरान छोटी-छोटी चीजों को बेहतर करने पर जोर देने वाले चेन्नई सुपरकिंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (Mahendra singh Dhoni) ने किंग्स इलेवन पंजाब (Kings XI Punjab) के खिलाफ 10 विकेट की शानदार जीत के बाद कहा कि उनकी टीम छोटी-छोटी चीजों को सही करने में सफल रही। अंक तालिका में निचले पायदान पर चल रही दो टीमों की जंग में चेन्नई सुपरकिंग्स ने रविवार को 179 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए फाफ डु प्लेसिस (नाबाद 87) और शेन वाटसन (नाबाद 83) के बीच पहले विकेट की 181 रन की अटूट साझेदारी की बदौलत 17.4 ओवर में बिना विकेट खोए 181 रन बनाकर जीत दर्ज की। वाटसन ने 53 गेंद की अपनी पारी में तीन छक्के और 11 चौके मारे जबकि डु प्लेसिस ने 53 गेंद का सामना करते हुए 11 चौके और एक छक्का जड़ा।       

भारत आईसीसी महिला टी20 रैंकिंग में तीसरे स्थान पर पहुंचा   

छोटी-छोटी चीजों को सही किया
धोनी ने अपनी टीम की एकतरफा जीत के बाद कहा कि मुझे लगता है कि हमने छोटी-छोटी चीजों को सही किया। बल्लेबाजी में हमें जिस शुरुआत की जरूरत थी हमें वह शुरुआत मिली। उम्मीद करते हैं कि आगामी मैचों में इन इसे दोहराने में सफल रहेंगे। आक्रामक बल्लेबाजी करने वाले वाटसन की पारी के संदर्भ में धोनी ने कहा कि यह सिर्फ अधिक आक्रामक होना नहीं है। वह (वाटसन) नेट पर गेंद को काफी अच्छी तरह हिट कर रहा था और आपको इसे पिच पर दोहराना होता है। यह समय-समय की बात है। फाफ हमारे लिए एंकर की भूमिका निभाता है और बीच के ओवरों में अच्छे शॉट खेलता है। वह लैप शॉट के साथ हमेशा गेंदबाज को भ्रम में डालता है।   

IPL 2020: चेन्नई और हैदराबाद के बीच मुकाबला आज, टूर्नामेंट में वापसी के इरादे से उतरेंगी दोनों टीमें

अच्छा प्रदर्शन रहा
धोनी ने कहा कि पंजाब की टीम को कम स्कोर पर रोकना महत्वपूर्ण रहा। उन्होंने कहा कि पहले तीन चार मैच देखने के बाद मुझे लगा कि अगर आप उन्हें कम स्कोर पर रोकते हो तो उन पर दबाव डाल सकते हो। सभी टीमों के पास आक्रामक बल्लेबाज हैं जो गेंदबाजी को ध्वस्त कर सकते हैं और हमारे गेंदबाजों ने अच्छा प्रदर्शन किया। पंजाब की टीम की यह लगातार तीसरी और पांच मैचों में चौथी हार है जिससे टीम अंतिम स्थान पर खिसक गई और इससे कप्तान लोकेश राहुल काफी निराश दिखे।          

RCB के ‘मेंटरशिप’ कार्यक्रम में कोहली-पडिक्कल, स्टेन-सैनी बने जोड़ीदार

कोई रॉकेट विज्ञान नहीं
मैच में पंजाब की ओर से सर्वाधिक 63 रन बनाने वाले राहुल ने कहा, ‘‘इतने सारे मैचों में हार का सामना करना निराशाजनक है। हमें कड़ा प्रयास करते रहना होगा। इसमें कोई रॉकेट विज्ञान नहीं है, हमें पता है कि हम कहां गलती कर रहे हैं। हम योजनाओं को अमलीजामा पहनाने में नाकाम हो रहे हैं। उम्मीद करते हैं कि हम सबक सीखेंगे और वापसी करेंगे। टीम के स्कोर के संदर्भ में राहुल ने कहा, ‘‘मैंने सोचा था कि 178 रन का स्कोर अच्छा रहेगा। जब हमने बल्लेबाजी शुरू की तो गेंद थोड़ा रुककर आ रही थी। हमने सोचा की 170 से 180 प्रतिस्पर्धी स्कोर होगा लेकिन हमें पता था कि अगर हम विकेट नहीं लेंगे तो इन स्तरीय खिलाडिय़ों के खिलाफ हमें जूझना होगा।         

IPL 2020: आज आमने-सामने होंगे मुंबई इंडियंस और किंग्स इलेवन पंजाब, जानें किसका पलड़ा भारी

क्या बोले वाटसन
मैन आफ द मैच चुने गए वाटसन ने कहा कि यह पारी खेलना अच्छा रहा। यह तकनीक और जज्बे का संयोजन रही। गेंद का काफी बेहतर तरीके से सामना कर पाए। हम एक दूसरे का अच्छा साथ निभाते हैं। कुछ गेंदबाज हैं जिनका सामना करने को वह प्राथमिकता देता है। वह अच्छा खिलाड़ी है और उसके साथ बल्लेबाजी करके अच्छा लगता है।       

डु प्लेसिस ने कहा, ‘‘हां, हमने अच्छा प्रदर्शन किया। मुझे लगता है कि मेरे लिए बड़ी चीज यह है कि मैं अंत तक टिका रहा। मेरा ध्यान इसी चीज पर है कि मैं अच्छी शुरुआत को बड़ी पारी में बदलने का प्रयास करूं। अच्छा रहा कि हम आज रात अच्छी साझेदारी करने में सफल रहे। मुझे लगता है कि पिछले मैच में हमारी गेंदबाजी काफी अच्छी थी, हमारी टीम का संतुलन बेहतर था लेकिन हमने बल्लेबाजी अच्छी नहीं की।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.