Tuesday, Dec 07, 2021
-->
ipl sports sunil narayan cricket sobhnt

KKR के नारायण के एक्शन पर जल्द समाधान निकलने की उम्मीद

  • Updated on 10/12/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) में दो बार के चैंपियन कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) ने उनके स्पिनर सुनील नारायण (Sunil Narayan) की संदिग्ध गेंदबाजी एक्शन के लिये रिपोर्ट किये जाने पर हैरानी व्यक्त करते हुए सोमवार को उम्मीद जतायी कि इस मामले का जल्द उचित समाधान निकाला जाएगा।    

 IPL 2020 RCB vs CSK: चेन्नई का लगातार खराब प्रदर्शन, बेंगलोर ने 37 रन से हराया

नारायण को टीम में लिया जाएगा
फ्रेंचाइजी ने हालांकि यह नहीं कहा कि नारायण को टीम में लिया जाएगा या नहीं। नारायण की मैदानी अंपायरों ने रिपोर्ट की है और उन्हें चेतावनी सूची में रखा गया है। अगर वर्तमान प्रतियोगिता में उन्हें फिर से रिपोर्ट किया जाता है तो फिर वह आगे गेंदबाजी नहीं कर पाएंगे। केकेआर (KKR) ने बयान में कहा कि यह फ्रेंचाइजी के लिये हैरानी भरा है विशेषकर तब जबकि वह 2012 से आईपीएल में 115 मैच और 2015 में आईपीएल सत्र के दौरान संदिग्ध गेंदबाजी एक्शन के लिये रिपोर्ट किये जाने के बाद 68 मैच खेल चुके हैं।     

IPL 2020 RR vs DC : दिल्ली ने राजस्थान को दी करारी शिकस्त, 46 रनों से जीता मैच

चार ओवर में दो विकेट लिए
रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के खिलाफ मैच से पूर्व जारी किये गये बयान में कहा गया है कि हमें उम्मीद है कि इसका जल्द ही उचित समाधान निकाला जाएगा। हम इस मामले के जल्द समाधान के लिये आईपीएल से मिल रहे सहयोग की सराहना करते हैं। इस 32 वर्षीय स्पिनर ने किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ केकेआर की दो रन की नाटकीय जीत के दौरान चार ओवर में दो विकेट लिये थे।      

धोनी के धुरंधरों का सामना विराट के वीरों से , बल्लेबाजों पर रहेगा फोकस

सभी प्रारुपों में गेदबाजी की अनुमति
इससे पहले नारायण को 2015 में संदिग्ध गेंदबाजी एक्शन के कारण अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में गेंदबाजी करने से रोक दिया था। एक्शन में सुधार करने के बाद 2016 के बाद उन्हें सभी प्रारूपों में गेंदबाजी करने की अनुमति दे दी गयी थी। 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.