Tuesday, Dec 06, 2022
-->
by-taking-out-drone-tour-message-of-change-in-farming-will-be-given-across-country

ड्रोन यात्रा निकाल कर देश भर में देंगे खेती- किसानी में बदलाव का संदेश

  • Updated on 11/20/2022

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। कृषि में ड्रोन की उपयोगिता बताने और किसानों में ड्रोन के माध्यम से कृषि कार्य को सुगम बनाने के लिए देश भर में ड्रोन यात्रा निकाली जाएगी। इस यात्रा का उद्देश्य कृषि में ड्रोन तकनीक के उपयोग और उसका फायदा बताना है। गुरुग्राम की ड्रोन निर्माता कंपनी आयोटेकवर्ल्ड एविगेशन इस यात्रा का नेतृत्व करेगी। इसे एक अभियान के तौर पर पूरे देश में निकालने की योजना है। इससे पहले भी यह कंपनी 11 हजार किलोमीटर की सफल ड्रोन यात्रा कर चुकी है। बीते 15 जुलाई 2022 से 19 अक्टूबर 2022 के बीच देश के 13 राज्यों जैसे हरियाणा, पंजाब, मध्य प्रदेश, गुजरात, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, तामिलनाडु, कर्नाटक और महाराष्ट्र में करीब 10 हजार किसानों के बीच इस यात्रा के जरिए अपना संदेश दिया है। 

कंपनी के सह संस्थापक दीपक भारद्वाज एवं अनूप उपाध्याय ने बताया कि अगले हफ्ते पंजाब के लुधियाना, अमृतसर, भटिंडा और पटियाला समेत कई स्थानों पर ड्रोन यात्रा निकाली जाएगी। उन्होंने बताया कि कई मशहूर एग्रो कैमिकल कंपनियों के साथ बड़ी ड्रोन यात्रा निकालने की योजना है जिसमें खेती-किसानी में ड्रोन तकनीकी की बढ़ती उपयोगिता के प्रति जागरूक किया जाएगा। श्री उपाध्याय ने बताया कहा कि ड्रोन तकनीक को लेकर भारत में जो उत्साह का माहौल दिख रहा है, वह अदभुत है।

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी स्वयं ड्रोन को कृषि क्षेत्र में 'गेम चेंजर' साबित होने वाला कह चुके हैं। उन्होंने कहा था कि स्मार्ट खेती के लिए ड्रोन के रूप में यह स्मार्ट उपकरण हमारे जीवन का हिस्सा बनने वाला है। उनका सपना है कि हर खेत में ड्रोन हो और हर कहीं कृषि जगत खुशहाल हो। यानी देश में तकनीकी रूप से कृषि क्षेत्र का आधुनिकीकरण केंद्र सरकार के एजेंडे में है। प्रधानमंत्री खेतों में कीटनाशकों का छिड़काव के प्रति जागरूक करने के लिए इससे पहले प्रगति मैदान में आयोजित एक बड़े ड्रोन सम्मेलन का अवलोकन कर यह संदेश दे चुके हैं। तब उन्होंने उम्मीद जताई थी कि भारत 2030 तक ड्रोन का हब बनेगा। 

साथ ही यह मेक इन इंडिया के लिए गौरवान्वित करने वाला है और इससे भविष्य में रोजगार के अवसर भी बढ़ने वाला है। आयोटेकवर्ल्ड एविगेशन भी इस दिशा में जागरूकता के लिए काम कर रहा है और देश के विभिन्न हिस्सों में ड्रोन यात्रा एवं किसान सम्मेलनों का आयोजन कर रहा है। किसानों को यह बताने की कोशिश कर रहा है कि ड्रोन से किस प्रकार उनके खर्च और समय की बचत हो रही है। 

किस तरह से पैदावार बढ़ रहे हैं और किसानों की आय में इजाफा हो रहा है। कंपनी का दावा है कि ड्रोन क्रांति अब किसानों के दिलो-दिमाग पर छा गया है। ऐसे में हम कृषि क्षेत्र में विकास के बड़े बदलाव की उम्मीद कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि जो ड्रोन नहीं खरीद सकते, वह बेहद कम मूल्य पर इसे किराए पर भी ले सकते हैं। ऐसे में कृषि जगत से जुड़े कई कार्यों के लिए ड्रोन बहुउपयोगी होगी साबित होने वाला है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.