Saturday, Apr 21, 2018

CPA में गूंजा उत्तराखंड का पेपरलेस बजट, सत्र आहूत करने पर विस अध्यक्ष को मिली शाबाशी

  • Updated on 4/16/2018

देहरादून/ब्यूरो। कामनवेल्थ पार्लियामेंट्री एसोसिएशन (सीपीए) इंडिया रीजन की जोनल गतिविधियों को लेकर दिल्ली में बैठक आयोजित हुई। इस बैठक में उत्तराखंड के हालिया बजट सत्र में पेपरलेस बजट पेश किए जाने की खूब चर्चा हुई। शनिवार को भी बजट सत्र आहूत कराने और पटल पर आए सभी प्रश्नों का जवाब देने के लिए उत्तराखंड विधानसभा अध्यक्ष को भी शाबाशी मिली।

चार जोन में बांटे गए सीपीए इंडिया रीजन के प्रथम द्वितीय व तृतीय जोन में आठ-आठ राज्य एवं चौथे जोन में सात राज्यों को सम्मिलित किया गया है। प्रथम जोन की तीन सदस्यीय समिति में बिहार, दिल्ली एवं उत्तराखंड राज्य शामिल हैं। सोमवार को दिल्ली में हुई बैठक के दौरान तीन सदस्यीय समितियों ने ही अपने-अपने जोन का नेतृत्व किया। बैठक के दौरान सीपीए इंडिया रीजन की अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने कहा कि चारों जोनल वाइज कार्यक्रम बनाए जाएं।

रि-एडमिशन फीस के विरोध में अभिभावकों ने किया हंगामा, खंड शिक्षा अधिकारी ने मामला कराया शांत

दो अथवा तीन राज्य मिलकर आपस में बैठक करें। इस प्रकार कम खर्चों में ज्यादा काम एवं निष्कर्ष निकलकर आएंगे। उन्होंने स्पीकर रिसर्च इनीशिएटिव (एसआरआई) का गठन किया है जो कानून बनाने, संसदीय बहस, राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय महत्व के जटिल मुद्दों का जवाब देने में अधिक प्रभावी भूमिका निभाएगी।

उत्तराखंड विधानसभा अध्यक्ष प्रेम चंद अग्रवाल ने कहा कि उन्होंने उत्तराखंड विधानसभा के लिए 30 लाख रुपये का पेपरलेस बजट का प्रावधान रखा है। इसके साथ ही सतत् विकास के लक्ष्यों की प्राप्ति संबंधी कमेटी भी प्रस्तावित की है। अग्रवाल ने कहा कि सीपीए इंडिया रीजन की जोनल मीटिंग लंबे समय के दौरान न होकर चार-छह महीने के अंतराल में होनी चाहिए। 

सीपीए इंडिया रीजन की प्रथम जोन की जोनल मीटिंग उत्तराखण्ड में आयोजित करने के लिए सीपीए इंडिया रीजन की अध्यक्ष से स्वीकृति प्राप्त हो चुकी है। स्थान व समय निर्धारित करके सीपीए इंडिया रीजन को बता दिया जाएगा।

मनमानी पर दिल्ली पब्लिक स्कूल को नोटिस, अभिभावकों ने मुख्य शिक्षा अधिकारी से की थी शिकायत

बैठक के दौरान ही लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने हाल में ही चले उत्तराखंड बजट सत्र जिसमें बिना व्यवधान एवं शनिवार को भी सत्र चलाने तथा प्रश्नकाल के दौरान सभी प्रश्नों को उत्तरित करने पर उत्तराखंड विधानसभा अध्यक्ष को बधाई एवं शुभकामना भी दी। 

बैठक में विभिन्न राज्यों के विधानसभा अध्यक्ष, अरुणाचल प्रदेश के तेनजिंग नॉर्बू थोंगडोक, असम के हितेंद्र नाथ गोस्वामी, दिल्ली के राम निवास गोयल, मध्य प्रदेश के सतीशरण शर्मा, तेलंगाना के स्वामी गौड एवं उत्तराखंड विधानसभा के विधानसभा सचिव जगदीश चंद उपस्थित थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.