Saturday, Apr 21, 2018

बॉयोमैट्रिक उपस्थित के विरोध में छात्रों ने की तालाबंदी, प्राचार्य ने कहा-कॉलेज को नहीं मिला आदेश

  • Updated on 4/16/2018

देहरादून/ब्यूरो। डीएवी कॉलेज में बॉयोमेट्रिक उपस्थिति के विरोध में छात्रसंघ अध्यक्ष शुभम सिमल्टी के नेतृत्व में छात्र-छात्राओं ने सोमवार को कॉलेज में जोरदार प्रदर्शन किया। इसके बाद छात्रों ने कई विभागों में ताले जड़ दिए। 

उधर, प्राचार्य डॉ. देवेन्द्र भसीन ने कहा कि कॉलेज में उच्च शिक्षा विभाग की ओर से छात्रों की बॉयोमेट्रिक उपस्थिति दर्ज कराने का कोई आदेश नहीं मिला है, इसलिए किसी भी छात्र-छात्रा को परीक्षा में बैठने से रोकने का भी कोई प्रश्न नहीं है।

CPA में गूंजा उत्तराखंड का पेपरलेस बजट, सत्र आहूत करने पर विस अध्यक्ष को मिली शाबाशी
 
उन्होंने कहा कि आज वह राज्य सूचना आयोग में दो अपीलों की सुनवाई के लिए व्यस्त थे। इसलिए छात्रों से बात नहीं हो पाई। लेकिन, छात्र प्रतिनिधियों में फैले इस भ्रम की दूर करने के लिए 17 अप्रैल मंगलवार को सभी छात्र प्रतिनिधियों की बैठक बुलाई है। 

उन्होंने कहा कि प्रदेश के समुचित विकास व विकास कार्यों की प्रगति के अनुश्रवण के लिए मुख्यमंत्री मॉनीटरिंग डेश बोर्ड पर प्रदेश के सभी विभागों से सूचनाएं प्राप्त कर प्रेषित की जा रही हैं जिससे विकास कार्यों की गति न रुके। इस व्यवस्था में हम सबका सहयोग होना चाहिए। 

रि-एडमिशन फीस के विरोध में अभिभावकों ने किया हंगामा, खंड शिक्षा अधिकारी ने मामला कराया शांत

इस डेश बोर्ड के लिए उच्च शिक्षा विभाग भी जानकारियां दे रहा है। उसी क्रम प्रदेश के सभी महाविद्यालयों से कुछ सूचनाएं मांगी गई हैं। वह लगभग सभी महाविद्यालयों ने भेज भी दी हैं। डीएवी कॉलेज शिक्षक संघ ने कुछ अतिरिक्त समय मांगा था। 

जिस पर उन्होंने सहमति दे दी थी। लेकिन, इन सूचनाओं में छात्रों द्वारा बायोमेट्रिक उपस्थिति देने व किसी को परीक्षा से रोकने का कोई मुद्दा ही नहीं है। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.