Tuesday, Aug 21, 2018

सौ वार्डों पर तीन सौ दावेदार, टिकट आवंटन बना भाजपा के लिए सिरदर्द

  • Updated on 3/13/2018

देहरादून/ब्यूरो। देहरादून नगर निगम के चुनावों की तैयारियों में जुटी भाजपा के लिए इस बार टिकट आवंटन गले की फांस बनने जा रहा है। अगर सौ वार्डों के लिहाज से ही चुनाव होते हैं, तो एक वार्ड से कम से कम तीन दावेदार होने तय माने जा रहे हैं। मंगलवार को महानगर भाजपा की ओर से निकाय चुनाव एवं राज्य सरकार के एक वर्ष का कार्यकाल पूरा होने की तैयारियों को लेकर बैठक में जिस उत्साह के साथ कार्यकर्ता पहुंचे, उससे तो यही प्रतीत होता है कि इस बार टिकट आवंटन आसान नहीं होने वाला है। 

इस प्रदेश की नेता प्रतिपक्ष बोलीं, सरकार का धर्मांतरण कानून महज चुनावी शिगूफा

यही वजह थी कि भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट को मंच से स्पष्ट करना पड़ा कि टिकट नेताओं की परिक्रमा से नहीं, बल्कि काम के बूते ही मिलेगा। चुटीले अंदाज में उन्होंने कहा कि यह तो तय है कि इस बार १०१ टिकट जरूर दिए जाएंगे। मंगलवार को भाजपा महानगर कार्यालय में कार्यकर्ताओं की बैठक आयोजित की गई। चूंकि यहां सरकार व संगठन दोनों से नेता पहुंचे, तो नगर निगम चुनाव के दावेदारों में चेहरा दिखाने की होड़ देखने को मिली। 

‘जनता दरबार’ लगाने की जगह सरकार खुद जा रही है ‘जनता के द्वार’

स्थिति यह रही कि आम बैठकों की तुलना में मंगलवार को महानगर भाजपा का सभागार दावेदारों की फौज से भरा रहा। यहां तक कि बाहर भी कार्यकर्ताओं की भीड़ लगी रही। सबकी कोशिश खुद को आला नेताओं के सामने अग्रणी साबित करने की थी। नगरीय क्षेत्र के पुराने साठ वार्ड के कार्यकर्ता तो बैठक में मौजूद रहे थे, आउटर से जुड़ने वाले चालीस प्रस्तावित वार्ड से आए दावेदारों की भी अच्छी खासी संख्या रही। 

एक वार्ड से टिकट के कम से कम तीन चेहरे बैठक में नजर आए। उच्च राज्य शिक्षा मंत्री धन सिंह रावत ने कहा कि नगर निकाय चुनावों की तैयारियों में कोई कसर नहीं छोड़नी है। भारी बहुमत के साथ भाजपा को बोर्ड नगर निगम में लाना है। वहीं, बैठक के दौरान मेयर पद के तीन प्रबल दावेदार उमेश अग्रवाल, सुनील उनियाल गामा एवं अनिल गोयल पूरे समय मौजूद रहे। 

स्कूली बच्चों की फरियाद, प्लीज सीएम अंकल! गांव में बिजली लगवा दो

मेयर और उमेश काऊ रहे नदारद 
हालांकि मेयर विनोद चमोली और विधायक उमेश शर्मा काऊ का बैठक से नदारद रहना भी चर्चा का विषय बना रहा। बैठक में विधायक हरबंस कपूर, विधायक गणेश जोशी, नरेश बंसल, महानगर अध्यक्ष विनय गोयल आदि मौजूद रहे।

सरकार की परफार्मेंस से अनजान कार्यकर्ता
भाजपा प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट ने कहा कि त्रिवंद्र सिंह रावत के नेतृत्व में सरकार बेहतर काम कर रही है। जो लोग यह कह रहे हैं कि डबल इंजन काम नहीं कर रहा, उन्हें भाजपाइयों को बताना चाहिए कि कितना काम हो रहा है। लेकिन मुश्किल तो यह है कि हमारे कार्यकर्ताओं को ही नहीं पता कि सरकार क्या-क्या काम कर रही है।

ऋषिकेश पहुंचे बॉलीवुड के सुपर स्टार रजनीकांत, स्वामी दयानंद सरस्वती को दी श्रद्धांजलि

इस पर उन्होंने कार्यकर्ताओं से पूछा कि क्या आपको पता है कि डबल इंजन आने के बाद बिजली विभाग कितने लाभ में आ गया या रोडवेज कितने फायदे में है। लेकिन कोई इसका जवाब नहीं दे पाया। इस पर भट्ट ने बताया कि हमेशा घाटे में रहने वाला बिजली विभाग दो सौ करोड़, जबकि रोडवेज भी ७० करोड़ के लाभ में आ चुका है। यही नहीं, सरकार ने जरूरतमंद छात्रों की मदद के लिए गेल इंडिया से अनुबंध किया है। इसके तहत ५०-५० छात्रों को सरकार व गेल मिलकर डॉक्टरी व इंजीनियरिंग की पढ़ाई में मदद कर रही है। यहां डबल नहीं, ट्रिपल इंजन काम कर रहा है।

बदरीनाथ को भी बनाएंगे भव्य
प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि केंद्र सरकार खासतौर से पीएम उत्तराखंड के विकास पर नजर रखे हुए हैं। बागवानी के लिए हाल ही में राज्य को ७०० करोड़ और आर्गेनिक खेती के लिए १५०० करोड़ मिले हैं। इसी तरह सौ करोड़ की लागत से केदारनाथ में पुनर्निर्माण के कार्य चल रहे हैं। विपक्ष इसे लोकसभा चुनाव की तैयारी बता रहा है, जबकि भाजपा अपने काम में लगी है। जल्द चालीस करोड़ की लागत से बदरीनाथ धाम का भी कायाकल्प किया जाना है।

अल्मोड़ा बस हादसे में चालक सहित 13 की मौत, राज्यपाल सहित कई नेताओं ने जताया शोक

साजिश थी शक्तिमान प्रकरण
हरीश रावत सरकार के कार्यकाल में भाजपा की महारैली का जिक्र करते हुए प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि रैली के दौरान शक्तिमान घोड़े को चोट आ गई थी। इसकी तोहमत भाजपा विधायक गणेश जोशी के मत्थे मढ़ दी गई। जबकि, जोशी ने केवल घोड़े को डंडा दिखाया था। इसके पीछे असली साजिश तो किसी भी तरह से वोट को कम करना था। घटना वाले दिन वह कांग्रेस सरकार के अविश्वास प्रस्ताव को लेकर बैठक कर रहे थे। इसी दौरान घोड़े वाले प्रकरण को कांग्रेस सरकार ने साजिश के तहत अंजाम दिया।

सरकार के एक साल पूरे होने का मनाएंगे जश्न
१८ मार्च को राज्य सरकार का एक साल का कार्यकाल पूरा हो रहा है। इसे सरकार और संगठन दोनों भव्य तरीके से मनाना चाहते हैं। बैठक में पहुंचे धन सिंह रावत ने कहा कि इस दिन सरकार की ओर से १०० महिलाओं को ई-रिक्शा आवंटित किए जाएंगे। ये रिक्शे सब्सिडी रेट पर दिए जा रहे हैं। इसके साथ ही आशा कार्यकर्ताओं को २५-२५ हजार की धनराशि सरकार की ओर से दी जाएगी। उन्होंने कार्यकर्ताओं का आह्वान किया कि इस दिन होने वाले आयोजन में अधिक से अधिक संख्या में पहुंचकर सफल बनाएं।

पुलिस की लापरवाही से नाराज मुख्य सचिव ने DM, SSP को लिखा खत

अंदर ज्ञान, बाहर जाम
भाजपा नेताओं की ओर से एक ओर जहां सभागार में कार्यकर्ताओं को ज्ञान बांटा जा रहा था, तो दूसरी ओर कनक चौक जाने वाली मुख्य सड़क पर कार्यकर्ताओं व नेताओं की गाड़ियों की भीड़ के कारण बार-बार जाम लगता रहा। इस कारण लोगों को काफी समस्याओं का सामना करना पड़ा।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.