Tuesday, Sep 28, 2021
-->
microsoft-claims-chrome-harms-laptop

Chrome पहुंचाता है विंडोज कंप्यूटर्स को नुकसान: माइक्रोसॉफ्ट

  • Updated on 6/21/2016

नई दिल्ली (टीम डिजिटल)। माइक्रोसॉफ्ट ने हाल ही में इस बात का दावा किया है कि गूगल क्रोम उनके लैपटॉप की बैटरी के लिए नुकसानदायक है।

अब गांजे के बिजनेस में उतरेगा माइक्रोसॉफ्ट

उन्होंने बैटरी टेस्ट करने के लिए चार अलग-अलग लैपटॉप पर अपने ऐज ब्राउजर, क्रोम, फायरफॉक्स पर और ओपेरा पर घंटों तक एच डी वीडियो चलाया। जिसका परिणाम था कि क्रोम चलाने वाले लैपटॉप की बैटरी 4 घंटे 19 मिनट 50 सेकेंड में खत्म हो गई, वहीं फायरफॉक्स की 5 घंटे 9 मिनट 30 सेकेंड में खत्म हुई, ओपेरा की 6 घंटे 18 मिनट 33 सेकेंड में खत्म हुई और माइक्रोसॉफ्ट ऐज वाले लैपटॉप की बैटरी 7 घंटे 22 मिनट 07 सेकेंड तक चली।

माइक्रोसॉफ्ट-लिंक्ड इन की डील के पीछे छिपे हैं ये 5 राज, पढ़ें

इससे यह पता चला की माइक्रोसॉफ्ट ऐज ब्राउजर वाला लैपटॉप क्रोम से 70 प्रतिशत ज्यादा चलता है। साथ ही माइक्रोसॉफ्ट का दावा है कि वीडियो के अलावा बाकि काम में भी उनका ब्राउजर 36 से 53 प्रतिशत ज्यादा चलता है। इन कामों में उन्होंने साइट खोलना, मेल पढ़ना और आर्टिकल पढ़ने को रखा है।

जानिए क्यों माइक्रोसॉफ्ट ने अमेरिकी सरकार को कोर्ट में घसीटा

एक रिपोर्ट के अनुसार क्रोम सबसे लोकप्रिय ब्राउजर है। क्रोम के बाजार में लगभग 45 प्रतिशत शेयर हैं। बाजार में सबसे ज्यादा शेयर माइक्रोसॉफ्ट इंटरनेट एक्सप्लोरर के गिरे हैं। उसके शेयर 41.37 प्रतिशत से 38.6 प्रतिशत पहुंच गए हैं। देखिए टेस्ट की वीडियो: https://youtu.be/rjrxOOfi54k

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें…एंड्रॉएड ऐप के लिए यहांक्लिक करें.

comments

.
.
.
.
.