Monday, Sep 20, 2021
-->
this-browser-of-google-made-internet-more-secure

इंटरनेट को सुरक्षित बनाएगा गूगल का ये ब्राउजर

  • Updated on 4/18/2016

नई दिल्ली (टीम डिजिटल)। इंटरनेट सर्चन इंजन गूगल अपने एप्स और ब्राउजर को बेहतर बनाने के लिए काम करता रहता है। हाल ही में कंपनी ने अपने क्रोम ब्राउजर का एडवांस वर्जन क्रोम 50 लॉन्च किया है। 

जहां एक ओर कुछ यूजर्स को गूगल के इस नए वर्जन के फीचर्स का लुफ्त उठा सकेगें, तो वहीं दूसरी ओर विंडोज एक्सपी, विंडोज विस्टा, OS X 10.6, OS X 10.7, और OS X 10.8 को सपोर्ट करने वाले ऑपरेटिंग सिस्टम के यूजर्स को इस बार निराशा ही हाथ लगेगी।

जी हां इन ऑपरेटिंग सिस्टम पर गूगल का ये नवीनतम वर्जन सपोर्ट नहीं करेगा। इंटरनेट पर सर्फ़िंग और सर्विस भुगतान करते वक्त यूजर्स को हर वक्त सुरक्षा को लेकर खतरा लगता रहता है,इसी बात को मद्देनजर कंपनी ने अपने इस वर्जन में कई सुरक्षा उपायों को जोड़ा गया है।

Good News ! 9 और स्टेशनों में फ्री Wi-Fi का मजा लीजिए

इसी कारण कंपनी ने अपने इस नए वर्जन से कई ऑपरेटिंग सिस्टम का सपोर्ट खत्म कर दिया है। बग और सुरक्षा अपडेट के अलावा, यूजर्स को स्मार्ट नोटिफिकेशन की भी सुविधाएं इसमें दी गई है।

कंपनी के मुताबिक क्रोम का पुराना वर्जन काम तो करेगा लेकिन यूजर्स को उसमें न ही नए अपडेट्स मिल सकेंगे और न ही सुरक्षा को लेकर कंपनी की कोई जिम्मेदारी रहेगी।

इसी के साथ यूजर को जीमेल एक्सेस करते वक्त भी काफी दिक्कतों का सामने भी करना पड़ सकता है। बता दें कि क्रोम ब्राउसर की सबसे मुख्य विशेषता ये है कि इसमें पेज लोडिंग की गति को पहले से बेहतर बनाया गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें…एंड्रॉएड ऐप के लिए यहांक्लिक करें.

comments

.
.
.
.
.