Wednesday, Jul 06, 2022
-->
Congress targeted the central government for building a bridge by China on Pangong Lake

कांग्रेस ने पैंगोंग झील पर चीन के पुल बनाने को लेकर केंद्र सरकार पर साधा निशाना

  • Updated on 5/20/2022

नई दिल्ली/नेशनल ब्यूरो। कांग्रेस ने पैंगोंग झील पर चीन की ओर से दूसरा पुल बनाए जाने को भारत की भौगोलिक अखंडता पर हमला करार देते हुए मोदी सरकार पर निशाना साधा है। कांग्रेस ने सरकार की प्रतिक्रिया को विरोधाभासी बताते हुए कहा कि इस तरह के बयान से कुछ नहीं होगा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को राष्ट्र की रक्षा करनी चाहिए।

प्रशांत किशोर ने कांग्रेस के उदयपुर चिंतन शिविर को बताया विफल, कहा-गुजरात-हिमाचल में होगी हार
विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अङ्क्षरदम बागची ने वीरवार को साप्ताहिक प्रेस कान्फ्रेंस में पूर्वी लद्दाख में पैंगोंग त्सो के पास चीन के दूसरा पुल बनाने संबंधी खबर पर कहा था कि भारत की ऐसे घटनाक्रम पर नजर है। उन्होंने कहा कि जिस स्थान पर निर्माण कार्य किया जा रहा है, वह क्षेत्र दशकों से उस देश के कब्जे में है। विदेश मंत्रालय के इस बयान को लेकर शुक्रवार को कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने तंज कसते हुए ट्विट किया, ‘‘चीन पैंगोंग पर पहला पुल बनाता है। भारत सरकार कहती है कि हम हालात पर नजर बनाए हुए हैं। चीन पैंगोंग पर दूसरा पुल बनाता है। भारत सरकार कहती है कि हम हालात पर नजर बनाए हुए हैं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘भारत की राष्ट्रीय सुरक्षा और क्षेत्रीय अखंडता से कोई समझौता नहीं हो सकता। डरे हुए अंदाज में प्रतिक्रिया करने से कुछ नहीं होगा। प्रधानमंत्री को राष्ट्र की रक्षा करनी चाहिए।’’


कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा ने एक प्रेस कान्फ्रेंस में चीन के दूसरे पुल के निर्माण पर विदेश मंत्रालय के बयान को विरोधाभासी बताया। उन्होंने सवाल किया, विदेश मंत्रालय को सही जानकारी नहीं है तो रक्षा मंत्रालय स्थिति को स्पष्ट क्यों नहीं करता, आखिर देश को अंधेरे में क्यों रखा जा रहा है? उन्होंने सवाल किया कि क्या यह सही नहीं है कि चीन पूर्वी लद्दाख के पैंगोंग झील वाले जिस इलाके में पुल का निर्माण कर रहा है उसे भारत दशकों से चीन द्वारा अनधिकृत क़ब्•ो वाला क्षेत्र मानता है? ऐसे में विदेश मंत्रालय की ताजा टिप्पणी से असमंजस की स्थिति पैदा होती है। खेड़ा ने दावा किया कि कूटनीति में भाषा की भूमिका सबसे महत्वपूर्ण होती है। जहां हमारी वीर सेना दुश्मन को मुंह तोड़ जवाब देती है, वहीं सरकार की ऐसी ढुलमुल टिप्पणी देश के हौसले का मजाक उड़ाती है।

 

comments

.
.
.
.
.