Monday, Jun 21, 2021
-->
Corona patients will be treated with plasma therapy in America prshnt

अमेरिका में भी प्लाज्मा थेरेपी से होगा कोरोना मरीजों का इलाज, राष्ट्रपति ट्रंप ने दी मंजूरी

  • Updated on 8/24/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। दुनिया भर में तेजी से फैल रहे कोरोना वायरस (Coronavirus) का प्रकोप थमने का नाम नहीं ले रहा। अब तक 2 करोड़ 35 लाख 82 हजार से अधिक लोग संक्रमित हो चुके हैं। वहीं कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित देश अमेरिका (America) में लगातार स्थिति बिगड़ी हुई है। इसलिए अब अमेरिका में भी प्लाज्मा (Plazma) से इलाज के लिए आपातकालीन मंजूरी की घोषणा कर दी गई है।

प्लाज्मा को लेकर राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने बयान जारी कर कहा है कि चीनी वायरस के खिलाफ लड़ाई में एक ऐतिहासिक घोषणा की कर रहे  है जो बहुत जिंदगी को बचाएगा। फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन ने कोरोना के लिए एक आपातकालीन उपचार को मंजूरी दी है जिसे प्लाज्मा कहते हैं।

पीएम मोदी के नेतृत्व में पश्चिम बंगाल चुनाव लड़ेगी और जीतेगी BJP : विजयवर्गीय 

भारत में पहले से ही प्लाज्मा के जरीए हो रहा इलाज
बता दें कि प्लाज्मा में शक्तिशाली एंटीबॉडी पाया जाता है जिसे कोरोना वायरस से लड़ने के लिए एक बेहतर उपचार माना गया है। भारत में पहले से ही प्लाज्मा से कोरोना का इलाज जारी है, जिसके सफल परिणाम मिले हैं। वहीं अब अमेरिका में भी प्लाज्मा के जरिए कोरोना मरीजों का इलाज होगा।

अमेरिका के एफडीए विभाग ने बयान जारी कर कहा है कि प्लाज्मा कोविड-19 के इलाज प्रभावित हो सकता है। एफडीए ने कहा कि प्लाज्मा के उपयोग से संभावित जोखिमों को कम किया जा सकता है।

हाई कोर्ट ने तबलीगी जमात से जुड़े विभिन्न मामले साकेत जिला कोर्ट ट्रांसफर किए

प्लाज्मा पर और परीक्षण की जरूरत
हालांकि कुछ विशेषज्ञों ने इसके दुष्प्रभाव के बारे में भी बताया है, जैस न्यूयॉर्क के एक फेफड़े विशेषज्ञ होरोविट्ज
का कहना है कि प्लाज्मा कोरोना वायरस से लड़ने में काम करता है कि नहीं अभी साबित नहीं हो पाया है। उन्होंने कहा कि इसके लिए अभी और परीक्षण करना जरूरी है। इसे इस तरह से कोरोना के इलाज में नहीं लाया जा सकता।

बता दें कि कोरोनावायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित देश अमेरिका में अब तक 5,874,146 लोग संक्रमित हो चुके हैं और 180,604 लोगों की मौत हो चुकी है, वहीं ठीक होने वालों की संख्या 3,167,063 है।

comments

.
.
.
.
.