Tuesday, Jun 28, 2022
-->
Delhi Chief Secretary said better coordination between DMRC DTC needed rkdsnt

दिल्ली के मुख्य सचिव ने कहा- DMRC और DTC के बीच बेहतर तालमेल की जरूरत

  • Updated on 5/3/2022

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। दिल्ली के मुख्य सचिव नरेश कुमार ने मंगलवार को डीएमआरसी और डीटीसी के संचालन में ‘अधिक तालमेल’ बैठाने की वकालत की। उन्होंने कहा कि मास रैपिड ट्रांजिट नेटवर्क के विस्तार के साथ सार्वजनिक परिवहन के इस्तेमाल को बढ़ावा देने और यात्रियों के लिए सफर को सुगम बनाने की खातिर यह बेहद आवश्यक है।      दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (डीएमआरसी) के 28वें स्थापना दिवस के उपलक्ष्य में यहां मेट्रो भवन में आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कुमार ने इस बात पर भी जोर दिया कि जरूरी तालमेल को हासिल करने के लिए पूरे नेटवर्क में कॉमन मोबिलिटी कार्ड का पूर्ण कार्यान्वयन जरूरी है।     

स्पाइसजेट विमान में गंभीर वायुमंडलीय विक्षोभ : DGCA ने शुरू की जांच

हाल ही में दिल्ली के मुख्य सचिव के रूप में कार्यभार संभालने वाले कुमार ने कहा कि कई साल पहले उन्होंने सरकार को ‘दिल्ली मेट्रो और डीटीसी को एकीकृत करने’ का सुझाव दिया था, लेकिन इस पर विचार नहीं किया गया। कुमार के मुताबिक, ‘‘अगर हम दोनों को एकीकृत नहीं कर सकते तो हम यकीनन मेट्रो और बसों के संचालन के अलावा शेड्यूिलिंग सेवाओं के बीच अधिक तालमेल ला सकते हैं। प्रौद्योगिकी के विकास के साथ सार्वजनिक परिवहन के इस्तेमाल को बढ़ाना होगा।’’ कार्यक्रम में आवासीय एवं शहरी मामलों के मंत्रालय (एमओएचयूए) के सचिव मनोज जोशी ने अपने संबोधन में डीएमआरसी को ‘दिल्ली में उत्कृष्टता के द्वीप’ के रूप में र्विणत किया। उन्होंने भी बेहतर तालमेल के साथ काम करने की आवश्यकता पर जोर दिया।   

राजनीतिक रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने दिए बिहार में नई पारी शुरु करने के संकेत 

  जोशी ने कहा, ‘‘पहले एक शून्य था और कोई उस तरह से काम कर सकता था, लेकिन अब अगर हम अलग-अलग काम करते हैं और एकीकृत तरीके से नहीं तो सभी को नुकसान होगा। यही नहीं, हम तालमेल का लाभ भी नहीं उठा पाएंगे।’’      उन्होंने कहा कि मेट्रो नेटवर्क, भारतीय रेलवे और नई दिल्ली-मेरठ क्षेत्रीय रैपिड ट्रांजिट सिस्टम (आरआरटीएस) के बीच अधिक तालमेल की जरूरत है, ताकि यात्रियों को अधिक सुविधाएं प्रदान की जा सकें।  जोशी के मुताबिक, नई दिल्ली मेट्रो स्टेशन को नई दिल्ली रेलवे स्टेशन से जोडऩे वाला फुट-ओवर-ब्रिज एक स्वागत योग्य कदम था, जिसने लोगों को सुविधा प्रदान की है।

31 पैसे की बकाया राशि : कोर्ट के हस्तक्षेप के बाद SBI ने किसान को जारी किया प्रमाणपत्र

     उन्होंने यह भी कहा कि रिंग रोड की तरफ से सराय काले खां में बन रहे मल्टीमोडल ट्रांसपोर्ट कॉम्प्लेक्स में प्रवेश की व्यवस्था पर भी ध्यान दिया जाना चाहिए और इसे लेकर उचित योजना बनाई जानी चाहिए। डीएमआरसी के प्रबंध निदेशक विकास कुमार ने संवाददाताओं को बताया कि डीएमआरसी और डीटीसी अपने संचालन में एकीकरण का प्रयास कर रहे हैं तथा मुख्य सचिव ने दोनों एजेंसियों के बीच संचालन में अनिवार्य रूप से अधिक तालमेल बैठाने पर जोर दिया है।      उन्होंने कहा, ‘‘तो हम यह कह सकते हैं कि अगर कोई व्यक्ति किसी मेट्रो स्टेशन पर उतर रहा है तो उसे उन बसों का समय पता होगा, जो निकटतम स्थान से ली जा सकती हैं।’’   

रिटायरमेंट के बाद नौकरशाहों के चुनाव लड़ने पर रोक लगाने से जुड़ी याचिका खारिज

  दिल्ली के मुख्य सचिव ने अपने संबोधन में ‘लास्ट-माइल कनेक्टिविटी’ को बढ़ावा देने पर भी जोर दिया, जिससे लोग सार्वजनिक परिवहन का अधिक से अधिक इस्तेमाल करने के लिए प्रेरित होंगे। उन्होंने डीटीसी बस मार्ग संख्या 620 का उदाहरण दिया, जो वसंत कुंज से कनॉट प्लेस के बीच चलती है और कैसे लोगों को शुरुआत में इस पर संदेह था, लेकिन यह उनके लिए एक बहुत ही उपयोगी एवं सुविधाजनक सेवा साबित हुई है। कुमार ने कहा, ‘‘लोग ‘पसंद नहीं, बल्कि मजबूरी’ के चलते दुपहिया और चारपहिया वाहन अधिक चलाते हैं। और मान लीजिए कि अगर 10,000 बसों को दिल्ली मेट्रो सेवाओं के साथ एकीकृत किया जाता है, तो राष्ट्रीय राजधानी की सड़कों पर न केवल भीड़भाड़ कम हो जाएगी, बल्कि स्वच्छ आबोहवा भी सुनिश्चित हो सकेगी।’’   

 

 

comments

.
.
.
.
.