Tuesday, Dec 07, 2021
-->
Delhi Metro More Than 3 lakhs Passenger Daily 1.5 lakh smart card sold KMBSNT

मेट्रो में हर दिन 3 लाख से ज्यादा यात्री कर रहे सफर, बिक गए 1.5 लाख स्मार्ट कार्ड

  • Updated on 9/23/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। दिल्ली (Delhi) में भले ही संक्रमण का आंकड़ा लगातार बढ़ रहा हो, लेकिन मेट्रो (Metro) का संचालन शुरू होंने के बाद से अब इसमें यात्रियों की संख्या बढ़ने लगी है। कोरोना (Coronavirus) से बचाव के लिए किए गए इंतजामों से लोगों के मन का डर कम हुआ है और मेट्रो को सुरक्षित मानते हुए ज्यादा से ज्यादा लोगों ने अब इसमें यात्रा करना शुरू कर दिया है। 

हालांकि हालात कुछ बदले जरूर हैं लेकिन पहले जैसे हालात होने में समय लग सकता है। स्कूल कॉलेज बंद हैं, इसके अलावा जिन कंपनियों के कर्मचारी घर से रहकर काम कर सकते हैं वो घर से ही काम कर रहे हैं। अन्य कामों के लिए भी लोग बाहर तब तक नहीं निकलना चाहते जब तक की कोई बहुत जरूरी काम न  हो। ऐसे में पहले जैसी यात्रियों की संख्या होना अभी संभव नहीं है और वो कोरोना काल में घातक भी हो सकता है। 

दिल्ली में 24 घंटे में कोरोना के 3800 से ज्यादा केस, 37 की मौत

मेट्रो में प्रतिदिन 3 से 4 लाख यात्री
इसके बाद भी मेट्रो में प्रतिदिन 3 से 4 लाख लोग यात्रा कर रहे हैं। वीकएंड में यात्रियों की संख्या कुछ कम हो जाती है। फिलहाल मेट्रो में यात्रा करने वाले अधिक यात्री वही हैं जिन्हें प्रतिदिन काम पर जाना होता है, और वो घर से काम नहीं कर सकते। ऐसे में सोमवार से शुक्रवार तो मेट्रो में यात्री अधिक होते हैं लेकिन शनिवार और रविवार इनकी संख्या कम होती है। 

दिल्ली: नवंबर से डीटीसी, क्लस्टर की सभी बसों में होगी ई-टिकटिंग

अब तक बिके इनते स्मार्ट कार्ड
12 सितंबर से जब से मेट्रो पहले की तरह चलने लगी है तब से यात्रियों की संख्या में कुछ इजाफा हुआ है। मेट्रो सेवा शुरू होने के बाद से अब तक 1,50,521 स्मार्ट कार्ड बेचे जा चुके हैं। इनमें से 1,29,554 स्मार्ट कार्ड 12 से 22  सितंब के बीच बिके हैं। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार मेट्रो में प्रतिदिन 10-12 हजार यात्रियों का इजाफा हो रहा है। पीक आवर्स में मेट्रो में यात्रियों की संख्या ज्यादा होती है। वहीं दिन के समय मेट्रो खाली नजर आती है। इसका कारण फ्रिक्वेंसी की संख्या में इजाफा होना भी बताया जा रहा है। 

यहां पढ़ें कोरोना से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें-

comments

.
.
.
.
.