Thursday, Dec 08, 2022
-->
Fadnavis said - there is no ''Super CM'' in Maharashtra After meeting Raj Thackeray

राज ठाकरे से मिलने के बाद फडणवीस बोले- महाराष्ट्र में कोई ‘सुपर सीएम’ नहीं

  • Updated on 7/15/2022

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। महाराष्ट्र के उप मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने शुक्रवार को कहा कि मौजूदा एकनाथ शिंदे नीत राज्य सरकार में कोई ‘‘सुपर सीएम’’नहीं है। कुछ विपक्षी नेताओं ने दावा किया था कि भले शिंदे मुख्यमंत्री हो, लेकिन फडणवीस हैं, जो सरकार चला रहे हैं।

कांग्रेस का कटाक्ष, कहा- प्रधानमंत्री मोदी रुपये के लिए हानिकारक हैं

भाजपा के वरिष्ठ नेता फडणवीस ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘‘मौजूदा सरकार में सुपर सीएम का कोई विचार नहीं है। हमारे पास एक ही मुख्यमंत्री है, जो एकनाथ शिंदे हैं। हम उनके नेतृत्व में काम कर रहे हैं, लेकिन कुछ लोग इसे पचा नहीं पा रहे हैं। उन्हें अब विपक्ष में रहने की आदत डाल लेनी चाहिए।’’  

रुबैया सईद ने यासीन मलिक और 3 अन्य की पहचान अपने अपहरणकर्ताओं के रूप में की 

  •  

उल्लेखनीय है कि वर्ष 2014 से 2019 के बीच भाजपा नीत सरकार में फडणवीस मुख्यमंत्री थे। मुख्यमंत्री पद के लिए शिवसेना के बागी नेता शिंदे का नाम भाजपा द्वारा आगे किए जाने के बाद उन्होंने पार्टी नेतृत्व के निर्देश पर उप मुख्यमंत्री पद स्वीकार किया। फडणवीस ने एक अन्य सवाल के जवाब में कहा कि दिन में महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के नेता राज ठाकरे से हुई मुलाकात का अर्थ निकालने की जरूरत नहीं है।

लुलु मॉल में नमाज अदा करने के मामले में अज्ञात लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज 

उन्होंने कहा, ‘‘ महाराष्ट्र में, हमारे पास राजनीतिक शिष्टाचार की संस्कृति है। वह (राज ठाकरे) बीमार थे और मैं उनसे मिलने गया। इसमें राजनीति कहां है?’’ 

RJD MLA अनंत सिंह आपराधिक मामले में दोषी ठहराए जाने के बाद अयोग्य घोषित

उद्धव ठाकरे नीत पूर्ववर्ती महा विकास आघाडी सरकार को आड़े हाथ लेते हुए फडणवीस ने कहा, ‘‘राज्यपाल द्वारा बहुमत साबित करने के लिए कहने के बाद मंत्रिमंडल की आखिरी बैठक बुलाई गई। बैठक ही गैरकानूनी थी और उसमें औरंगाबाद, उस्मानाबाद शहरों और नवी मुंबई हवाई अड्डे का नाम बदलने का फैसला किया गया। हम इन फैसलों की पुष्टि मंत्रिमंडल की अगली बैठक में करेंगे क्योंकि हमारे पास बहुमत है।’

ज्ञानवापी क्षेत्र में स्वयं प्रकट हुए थे ‘आदिविश्वेश्वर‘: हिंदू पक्ष के वकील


 

comments

.
.
.
.
.